‘मर्जर’ और ‘राहत पैकेज’ पर कॉर्पोरेशन बैंक का ग्राहकों को संदेश

01 अप्रैल से प्रस्‍तावित 10 बड़े बैंकों के मर्जर पर कॉर्पोरेशन बैंक ने ग्राहकों को एक संदेश देकर उनका भ्रम दूर किया है।
इसके अलावा बैंक ने लॉकडाउन के कारण उत्‍पन्‍न स्‍थितियों के मद्देनजर सरकार द्वारा ‘राहत पैकेज’ के तहत जनधन खातों में भेजे जा रहे पैसों को लेकर भी ग्राहकों की आशंका दूर की है।
गौरतलब है कि 01 अप्रैल से बैंकिंग व्‍यवस्‍था में बड़ा बदलाव होने जा रहा है। देश की दस बैंकों का वजूद पूरी तरह से बदल जाएगा। इनके नाम और नियम भी बदल जाएंगे क्‍योंकि पूर्व निर्धारित व्‍यवस्‍था के अनुसार देश की दस बैंकों का विलय यानी Merger Of Banks होने जा रहा है।
इस संबंध में कॉर्पोरेशन बैंक की मथुरा शाखा के प्रबंधक दीपक रावत ने ग्राहकों का भ्रम दूर करते हुए बताया कि ‘मर्जर’ के बावजूद फिलहाल ऐसा कोई बदलाव होने नहीं जा रहा जिससे खाताधारकों या आम आदमी को किसी परेशानी का सामना करना पड़े।
उन्‍होंने कहा कि जिन बैंकों का मर्जर होने जा रहा है, उनके सभी चेक बुक सहित डेबिट और क्रेडिट कार्ड पहले की तरह कार्य करते रहेंगे।
इन बैंकों के IFSC Code में होने जा रहे बदलाव से भी कोई खाताधारक प्रभावित नहीं होगा।
राहत पैकेज का पैसा जनधन खातों में सुरक्षित
बैंक प्रबंधक दीपक रावत ने इस आशंका को भी पूरी तरह खारिज किया है कि कोरोना वायरस के कारण पैदा हुई स्‍थितियों में सरकार की ओर से घोषित ‘राहत पैकेज’ के तहत जो पैसा जनधन खातों में आ रहा है, वह बाद में वापस चला जाएगा।
उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया है कि ऐसी किसी आशंका के कारण बैंक में भीड़ न बढ़ाएं। जरूरी हो तभी बैंक से पैसा निकालें क्‍योंकि जनधन खातों में आया हुआ पैसा कहीं नहीं जाएगा। वह पैसा जनधन खाताधारकों के लिए है और उन्‍हीं के खातों में जमा रहेगा। जब जिसे आवश्‍यकता हो, तब वह अपना पैसा निकाल सकता है। इसमें किसी प्रकार की कोई समस्‍या नहीं आने वाली।
कॉर्पोरेशन बैंक ने अपील की है कि इस समय किसी भी आशंका से भीड़ का बढ़ना लोगों की जिंदगी को संकट में डाल सकता है, इसलिए बैंक में पड़े पैसे को तभी निकालें जब आवश्‍यक हो।
किस बैंक का कौन सी बैंक में होगा विलय
01 अप्रैल के बाद योजना के अनुसार ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का पंजाब नेशनल बैंक में विलय कर दिया जाएगा।
इसी प्रकार सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक में, इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में और आंध्रा बैंक व कॉर्पोरेशन बैंक का यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में विलय होगा।
अब होंगी ये नई शाखाएं
RBI ने कहा है कि इस व्‍यवस्‍था के तहत अब ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया 01 अप्रैल के बाद पंजाब नेशनल बैंक की शाखाओं के तौर पर ही काम करेंगी।
सिंडिकेट बैंक अब केनरा बैंक की शाखा के तौर पर काम करेगी।
RBI आरबीआई ने कहा कि इलाहाबाद बैंक की शाखाएं इंडियन बैंक के रूप में काम करेंगी जबकि आंध्र बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक की शाखाएँ यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया की शाखाओं के रूप में काम करेंगी।
-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *