कोरोना का कहर, शेयर बाजार में लगातार गिरावट

नई दिल्‍ली। शेयर बाजार में गिरावट लगातार बढ़ती जा रही है। दुनिया के प्रमुख तेल उत्पादक देशों के बीच उत्पादन में कटौती के लेकर सहमति नहीं बन पाने के बाद सऊदी अरब ने कीमत यु्द्ध छेड़ दिया है।
इसके बाद कच्चे तेल के दामों में सोमवार को 31 पर्सेंट की गिरावट हुई।
1991 के खाड़ी युद्ध के दौरान आई गिरावट के बाद यह सबसे बड़ी गिरावट है, जिससे घरेलू बाजार का सेंटिमेंट बिगड़ गया है।
कोरोना के बढ़ते मामले पहले ही बाजार पर कहर बरपा रहे थे। वहीं यस बैंक संकट भी निवेशकों को परेशान कर रहा था, लेकिन आज यस बैंक ही अकेला ऐसा शेयर दिख रहा है जो निवेशकों के डर को थोड़ा दूर करता दिखाई दे रहा है। शेयर 34 पर्सेंट की बढ़त पर देखा गया।
सुबह साढ़े 11 बजे के आसपास सेंसेक्स 1600 से ज्यादा अंकों की गिरावट के साथ 35,937.60 पर ट्रेड करता देखा गया। इंडेक्स के सभी शेयर लाल निशान पर दिखे। सबसे ज्यादा गिरावट ओएनजीसी और रिलायंस के शेयरों में देखी जा रही है। ओएनजीसी का शेयर 12 पर्सेंट से ज्यादा नीचे दिखाई दे रहा है।
बहरहाल, कच्चे तेल के दाम में इतनी बड़ी गिरावट भारत के लिए अच्छी खबर साबित हो सकती है, जो ट्रेड डेफिसिट से गुजर रहा है और महंगाई भई काफी ऊंची है लेकिन वैश्विक इकॉनमी के लिए कच्चे तेल के दाम में गिरावट एक कमज़ोर आउटलुक पेश करती है।
और गिरेगा कच्चे तेल का दाम
आर्गस मीडिया के अज़लिन अहमद कहते हैं, ओपेक+ के साथ बाच न बनने से बाजार हैरान हुआ है। अहमद ने कहा, अगले कुछ दिनों में कच्चे तेल के दाम और गिरेंगे और कहां जाकर थमेंगे, यह फिलहाल नहीं कहा जा सकता।
यस बैंक के शेयरों में तेजी
संकट में फंसे यस बैंक के ग्राहकों को सरकार के आश्वासन और एसबीआई के प्लान से निवेशकों में थोड़ा भरोसा लौटा है। शुक्रवार को शेयर काफी टूट गए थे, लेकिन आज निवेशक इसमें लिवाली कर रहे हैं। शुरुआती कारोबार में बैंक के शेयर 20 पर्सेंट तक चढ़े देखे गए, साढ़े 11 बजे निफ्टी पर यह शेयर 34 पर्सेंट ऊपर देखा गया।
कोरोना का खौफ और बढ़ा
इटली, जर्मनी, फ्रास में कोरोना को लेकर चिंता बढ़ गई है। इटली में एक ही में 100 से ज्यादा मौतों को लेकर इटली में खौफ है। वहीं, ईरान में संडे को 49 मौतें हुईं। चीन में अब तक कुल 3119 मौतें कोरोना से हो चुकी हैं। भारत में भी कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *