Corona पर KD मेडिकल कॉलेज की डाइटीशियन के सुझाव

मथुरा। दुनिया भर में फैल रहे Corona वायरस के संक्रमण से बचने के लिए हमें सावधानी बरतने के साथ-साथ अपने खान-पान में भी कुछ चीजों से परहेज रखने की आवश्यकता है। के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर की सीनियर डाइटीशियन स्वेता अग्रवाल का कहना है कि इस समय हमें कच्ची सब्जियों और मांस-मछली, अण्डे खाने से परहेज करना नितांत आवश्यक है। बेहतर होगा हम कच्ची सब्जियों को अच्छी तरह से धुलकर और उन्हें उबाल कर ही खाएं।

See Video

स्वेता अग्रवाल का कहना है कि कई बार कच्ची सब्जियां सेहत के लिए अच्छी होती हैं। कच्ची सब्जियों से भरपूर मात्रा में फाइबर मिलता है लेकिन इस समय जब Corona वायरस पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले चुका है ऐसे समय में हमें कच्ची सब्जियों के सेवन से बचना चाहिए तथा बाजार से लाने के बाद सब्जियों को अच्छी तरह से धोएं, उन्हें उबालें और उसके बाद ही उसका सेवन करें। इस समय जितना हो सके उतनी बार गर्म पानी ही पिएं। गर्म पानी जहां एक ओर कफ, कब्ज, गैस, मोटापा, सर्दी-जुकाम टॉन्सिल में कारगर साबित होगा वहीं कोरोना वायरस से बचाव के लिए भी जरूरी है। सुश्री अग्रवाल का कहना है कि इस समय कच्चे अण्डे या मांस का सेवन बिल्कुल न करें। अक्सर देखा जाता है कि प्रोटीन की भरपूर मात्रा लेने के लिए जिम जाने वाले लोग कच्चे या अधपके मांस और कच्चे अंडे का सेवन अधिक करते हैं। इन दिनों जब कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है ऐसे नाजुक समय में हमें कच्चे मांस और कच्चे अण्डे के सेवन से बचना बहुत जरूरी है।

स्वेता का कहना है कि खाने को अच्छी तरह से पकाकर ही खाएं। सही प्रकार से पका खाना स्वस्थ रहने के लिए बहुत जरूरी है। कई बार लोगों को लगता है कि खाने को ज्यादा पकाने से उसके पौष्टिक तत्व नष्ट हो जाते हैं और इस कारण वे खाने को सही प्रकार से नहीं पकाते, जिसके कारण उसमें छिपे कीटाणु पूरी तरह से नहीं मर पाते और गंभीर बीमारियों का कारण बन जाते हैं। स्वेता की सलाह है कि भोजन पकाने के समय साफ-सफाई का ध्यान तो रखें ही भोजन करने से पहले और बाद में भी हमें अपने हाथों को अच्छी तरह से धोना बहुत जरूरी है। साफ-सफाई से रहने वाले व्यक्ति को इस वायरस से संक्रमित होने का खतरा 90 प्रतिशत तक कम हो जाता है। स्वेता बताती हैं कि इस समय एंटी-एक्सीडेंट से भरपूर विटामिन सी भी इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने का काम करती है। इसके लिए हमें अपनी डाइट में आंवला, अंगूर, संतरा, अमरूद, नीबू, पपीता जैसे फलों का अधिकाधिक सेवन करना चाहिए।

आर.के. एज्यूकेशन हब के अध्यक्ष डा. रामकिशोर अग्रवाल और चेयरमैन मनोज अग्रवाल का कहना है कि के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर जनमानस को कोरोना वायरस से बचाव के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।

-Legens News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »