AMU में जिन्ना की तस्वीर को लेकर विवाद बरकरार, इंटरनेट सेवाएं बंद

अलीगढ़। AMU में जिन्ना की तस्वीर को लेकर घमासान बढ़ता ही जा रहा है। शुक्रवार को मामला बढ़ता देख जिला प्रशासन ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी कैंपस AMU की सारी इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं। इसे फिलहाल 5 मई तक बंद करने के आदेश दिए गए हैं। लाठीचार्ज के विरोध और हिंदू संगठनों पर कार्यवाही की मांग को लेकर AMU स्टूडेंट यूनियन ने कक्षाओं का बहिष्कार कर रखा है। शुक्रवार को इसका असर दिखा और यूनिवर्सिटी में कक्षाएं नहीं चलीं। 
उधर, सीएम योगी आदित्यनाथ ने अलीगढ़ प्रशासन से घटना पर रिपोर्ट मांगी है। इस बीच AMU में पत्रकारों से बदसलूकी और मारपीट की भी बात सामने आ रही है। 
रिपोर्ट्स के मुताबिक AMU मैं धरने पर बैठे छात्रों ने मीडिया कर्मियों को बुलाया और उसके बाद एक फ्रीलांस फोटो जर्नलिस्ट की जमकर पिटाई कर दी। 
आपको बता दें कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी AMU में छात्रसंघ हॉल में मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगी है। इस तस्वीर को लेकर यहां से सांसद सतीश गौतम ने एएमयू वीसी को पत्र लिखकर स्पष्टीकरण मांगा था। उनके इस पत्र के बाद यहां विवाद शुरू हो गया। 
एक पक्ष जिन्ना की तस्वीर हटाए जाने की मांग को लेकर अड़ा है तो AMU छात्रसंघ ने तस्वीर न हटाने का ऐलान किया है। इस बात को लेकर AMU कैंपस में लगातार तनाव जारी है। गुरुवार को कैंपस में छात्रों के बीच बवाल हुआ था। पुलिस को भीड़ नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा था। जिसके बाद छात्रों ने कक्षाओं के बहिष्कार का ऐलान किया। 
शुक्रवार को AMU में कोई कक्षाएं नहीं हुईं। कई छात्र तो गुरुवार को हुए बवाल के बाद यूनिवर्सिटी पहुंचे ही नहीं। कुछ छात्र हंगामे के लिए एकत्र हुए लेकिन यहां पहले से तैनात भारी पुलिस फोर्स ने उन्हें कैंपस और आस-पास एकत्र नहीं होने दिया। 
जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने आदेश में गुरुवार को हुई घटना का जिक्र करते हुए लिखा कि उन्हें संज्ञान में आया है कि कुछ असामाजिक एवं उपद्रवी लोगों द्वारा झूठी अफवाहें फैलाई जा रही हैं। दुष्प्रचार के लिए कई तरह के वीडियो, फोटो और एसएमएस फैलाए जा रहे हैं। इसे सांप्रदायिक समरसता और शांति व्यवस्था भंग हो सकती है। 
उन्होंने सभी कंपनियों को 4 मई शुक्रवार को दोपहर 2:00 बजे से 5 मई की रात 12:00 बजे तक इंटरनेट की सभी सेवाएं बंद करने के आदेश दिए हैं।  
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »