PMAY-U के तहत 56368 नए मकानों के कंस्ट्रक्शन को मंजूरी

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी PMAY-U के तहत 56368 नए मकानों के कंस्ट्रक्शन को मंजूरी मिली है। इन मकानों को PMAY-U के विभिन्न वर्टिकल्स के तहत बनाने का प्रस्ताव है। मंजूरी सेंट्रल सैंक्शनिंग एंड मॉनिटरिंग कमेटी की 53वीं बैठक में दी गई। इस बैठक में 11 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों के प्रतिनिधि मौजूद रहे। आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय में सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों से अपील की है कि PMAY-U मिशन की अवधि के दौरान मकानों का निर्माण 100 फीसदी पूरा हो जाने और इनकी सभी पात्र लाभाथियों को डिलीवरी सुनिश्चित की जाए। राज्यों व प्रदेशों को यह भी निर्देश दिए गए कि मिशन के सही तरीके से क्रियान्वयन और मॉनिटरिंग के लिए ऑनलाइन मैकेनिज्म का इस्तेमाल किया जाए।
LHPs और DHPs की प्रगति की भी समीक्षा
सचिव ने मीटिंग में लाइट हाउस प्रोजेक्ट्स (LHPs) और डेमोन्सट्रेशन हाउसिंग प्रोजेक्ट्स (DHPs) की प्रगति की भी समीक्षा की। LHPs की नींव प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 1 जनवरी 2021 को रखी थी। LHPs के तहत मकानों का निर्माण लखनऊ, रांची, राजकोट, अगरतला, चेन्नई और इंदौर में हो रहा है। इन LHP साइट्स को लाइव लैब्स के तौर पर प्रमोट करने के लिए मंत्रालय ने एक ऑनलाइन इनरोलमेंट ड्राइव शुरू की है। इससे बड़े पैमाने पर नागरिकों के पार्टिसिपेशन और तकनीकी जागरुकता, ऑन साइट लर्निंग, समाधान के लिए उपायों की खोज, एक्सपेरिमेंटेशन व इनोवेशन को प्रोत्साहित किया जा सकेगा।
PMAY-U में 73 लाख घरों का निर्माण कार्य शुरू
मोदी सरकार के महत्वाकांक्षी मिशन ‘सभी के लिए घर’ के तहत पूरे देश में घरों के निर्माण, उसके पूरे होने और लाभार्थियों को डिलीवरी करने में तेजी पर जोर है। मंत्रालय 2022 तक शहरी भारत में सभी पात्र लाभार्थियों को पक्का घर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। अभी तक PMAY-U के तहत 73 लाख से अधिक घरों का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है और 43 लाख घरों का निर्माण पूरा हो चुका है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *