civil enclave आंदोलन को व्‍यापक बनाने के लिये संघर्ष समिति बनी

civil enclave के आंदोलन को व्‍यापक बनाये जाने के लिये संघर्ष समिति का गठन

आगरा। आगरा की एयर कनैक्‍टिविटी के एक मात्र माध्‍यम पं दीन दयाल उपाध्‍याय सिविल एन्‍कलेव को नागरिकों की सहज पहुंच लायक बनाये जाने के दायित्‍व को उप्र सरकार भूल चुकी है। सत्‍तादल और मुख्‍ममत्री योगी आदित्‍यनाथ सरकार उपाध्‍यायजी केनाम पर वोट तो जरूर बटोरना चाहती है किन्‍तु उनके नाम पर बने civil enclave को सहज जन पहुच का बनाने के लिये धनौली गांव में शिफ्ट करने के प्रोजेक्‍ट को पूरी तरह से बाधित किये हुए है ।

सिविल सोसायटी  आगरा की सिकन्‍दरा स्‍थित होटल द के एस रायल  में हुई समीक्षा बैठक में इसबात पर आश्‍चर्य व्‍यक्‍त किया गया कि जमीन अधिग्रहण कर लिये जाने के बावजूद उप्र सरकार उसे एयरपोर्ट अथार्टी को हस्‍तांतरित क्‍यों नहीं कर रही है। जबकि एन्‍वायरमैंट इम्‍पैक्‍ट रिपोर्ट तैयार हो चुकी है तथा प्राजेक्‍ट पर तज ट्रिपेजियम जोन अथार्टी की ओर से बिना किसी आपत्‍ति के अग्रसरित किया जा चुका है।

सिविल सोसायटी ने बने हुए ‘आगरा के हित विरोधी ‘ हालातों पर चिंता व्‍यक्‍त कर समाज विज्ञान संस्‍थान के पूर्व निदेशक डा ब्रजेश चन्‍द्रा के सुझाव पर अपने सदस्‍यों में से ही एक कोर कमेटी का गठन किया । इस कोर कमेंटी में सर्वश्री डॉ ब्रजेश चन्द्र,डॉ शिल्पा दिक्षित शर्मा, डॉ मधु भारद्वाज,श्री दीपक सरीन,श्री दयाल कालरा,श्री अभिनय प्रसाद, श्री विशाल कुल्श्रेस्‍ठ, श्री पुष्पेन्द्र चौधरी, श्री राजीव सक्सेना, श्री शिरोमणि सिंह और अनिल शर्मा  आदि सम्‍मलित किये गये हैं।

यह कमेटी आदोलन को व्‍यापक बनाये जाने के लिये सक्रिय रहेगी तथा उन समूहों, पार्टियों, सामाजिक संगठनों से संपर्क करेगी जो कि सहज जन पहुंच संभव करने के लिये मौजूदा सिविल एन्‍कलेव के धनौली गांव में शिफ्टंग योजना के तेजी के साथ क्रियान्‍वयन के पक्ष में हैं।

जालमा कुष्‍ठ इंस्‍टीट्यूट की पूर्व अधिकारी एवं साहित्‍यकार डा मधु भारद्वाज ने कहा कि उन्‍हे आश्‍चर्य इसबात का है कि आगरा के ही कुछ बुद्धिजीवी इस प्राजेक्‍ट में व्‍यवधान डाल रहे हैं और एनसीआर लाबी को लाभ पहुंचाने के लिये नकारात्‍मक कार्यों मे लिप्‍त हैं। उन्‍होंने कहा कि कया यह उचित है कि वाकायदा शिफ्टिंग वाले प्रोजैक्‍ट को , ग्रीन फील्‍ड प्राजेक्‍ट के रूप में प्रचारित करने का प्रयास चल रहा है और इसके लिये आ रटी आई अधिकार  अधिकार का उपयोग किया जा रहा है।

मीटिंग में हैलीकाप्‍टर और एरोप्‍लेन का इस्‍तेमाल कर चुनाव प्रचार के लिये आगरा आने वाले मंत्रियों,राजनेताओं ओर स्‍टारप्रचारकों के जनबहिष्‍कार के संदेश को व्‍यपक बनायेजाने का भी निश्‍चय किया गया।

साथ हि “पोस्ट कार्ड बोलेगा” का भी आवाहन किया गया। सभी सदस्यों ने जयादा से जायदा लोगों को इस मुहिम में जोड़ने का प्रण लिया. इस पर सत एंड्रूज स्कूल ऑफ़ ग्रुप के श्री गिरधर शर्मा ने पूरा सहयोग का अश्‍वासन दिया।

सिविल सोसायटी आगरा के जर्नल सैकेट्री अनिल शमा  के द्वारा सिविल एन्‍कलेव केलिये जनजागरा केलिये शहीदस्‍मारक पर सत्‍याग्रह करने केप्रस्‍ताव का समर्थन किया गया। इस सत्‍याग्रह के दौरान स्‍क्रीन पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी के भाषण का स्‍क्रीन पर प्रदर्शन किया जायेगा जिसमें उन्‍होंने 2014 में आगरा में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाये जाने की घोषणा की थी। श्री शर्मा ने कहा कि यह भाषण अपने आप में कथनी और करनी में अंतर को जनता केसमक्ष लाने को पर्याप्‍त साक्ष्‍य है।

श्री शर्मा ने कहा कि सत्‍याग्रह और वीडियों केप्रदर्शन केलिये वाकायदा प्रशासन सेअनुमति ली जायेगी और इसमें अगर सरकारी तंत्र ने गडबडी की तो वह न्‍यायालय का दरबाजा खटखटाने से नहीं चूकेंगे।

मीटिंग में विचार व्‍यक्‍त करने वालों में सर्वश्री श्री ओम सेठ, डॉ संजय चतुर्वेदी, डॉ प्रमिला चावला, डॉ ब्रजेश चन्द्र, डॉ मधु भारद्वाज, आदि भी शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »