किसान आंदोलन पर संसद में बोले कांग्रेसी सांसद बिट्टू, योगेन्‍द्र यादव की गिरफ्तारी से बन सकती है बात

नई दिल्‍ली। संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान पंजाब के लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव पर किसानों को भड़काने का आरोप लगाया। बिट्टू ने तो यहां तक कह दिया कि अगर योगेंद्र यादव को पकड़ लिया जाए तो किसानों और सरकार में आज ही बात बन सकती है क्योंकि असली आग लगाने वाले वही हैं। बिट्टू ने सीधे तौक पर 26 जनवरी के दिन हुई हिंसा के लिए योगेंद्र यादव को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने ये तक कह दिया कि किसान आंदोलन में खालिस्तानी फंडिंग हो रही है।
दरअसल, मोदी सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में सड़क से संसद तक संग्राम जारी है। वहीं बुधवार को दिल्ली हिंसा को लेकर पंजाब के लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने बुधवार को संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव पर बड़ा आरोप लगाया। कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने गणतंत्र दिवस पर देश की राजधानी में किसान ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा की पीछे योगेंद्र यादव की साजिश बताई। बिट्टू ने कहा कि अगर योगेंद्र यादव को पकड़ लिया जाए, तो किसानों और सरकार में आज ही बात बन सकती है क्योंकि असली आग लगाने वाले वही हैं।

कांग्रेस सांसद ने 26 जनवरी को देश की राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा के लिए योगेंद्र यादव को जिम्मेदार ठहराया है। इतना ही नहीं, कांग्रेस सांसद बिट्टू ने तो यहां तक कह दिया कि अगर योगेंद्र यादव को पकड़ लिया जाए तो किसानों और सरकार में आज ही बात बन सकती है क्योंकि वही आग लगा रहे हैं। बिट्टू ने कहा कि किसान आंदोलन में खालिस्तानी फंडिंग हो रही है। किसान अपने आंदोलन को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन योगेंद्र यादव अपना एजेंडा सीधा कर रहे हैं।

सिंघु बॉर्डर पर हुआ था जानलेवा हमला 

कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू कुछ दिन पहले किसान आंदोलन को अपना समर्थन देने सिंघु बॉर्डर पर पहुंचे थे, जहां उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ा था।  इसके साथ ही उन पर हमला किए जाने की बात भी सामने आई है। इसके साथ ही बिट्टू को कथित रूप से अपमानित करने की बात भी सामने आई है।  किसान आंदोलन हमले को लेकर बिट्टू ने कहा, ‘आप झंडे उठाकर खालिस्तान के नारे लगाओ, फिर भी हम भागने वाले नहीं है।  पहले भी शहादत दी है। हम पर बड़ी प्लानिंग के तहत हमला किया गया है, मारने की प्लानिंग थी।  हम लोगों पर कातिलाना हमला किया गया है। हमारी पगड़ी पर हमला किया गया। लाठी से हमला हुआ। हम जाने वाले नहीं है।  कुछ लोग हैं, इनसे सरकार और एजेंसी निपट लेंगी।

आरोप, घात लगाकर मारने के लिए बैठे थे कुछ लोग

कांग्रेस सांसद बिट्टू ने कहा कि हम किसान नेताओं की बैठक में भाग लेने गए थे। वहां कुछ लोग हम पर घात लगाए बैठे थे, लोग लाठी और अन्य हथियारों से लैस थे।  हम अब कोई कदम नहीं उठाने जा रहे हैं क्योंकि किसानों का आंदोलन अभी भी जारी है, ऐसे तत्वों को झंडे लहराने के लिए 1 करोड़ से लेकर 80 लाख रुपये तक दिए जाते हैं और मैं वैसे भी एक टारगेट हूं।

-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *