INS विराट पर राजीव की पिकनिक को लेकर बचाव में आई कांग्रेस

नई दिल्‍ली। INS विराट पर राजीव गांधी द्वारा परिवार, रिश्‍तेदार और दोस्‍तों के साथ पिकनिक मनाने के मामले में कांग्रेस अब पूरी तरह बचाव करती दिखाई दे रही है।
कांग्रेस का कहना है कि राजीव गांधी ने INS विराट का इस्तेमाल छुट्टियों के लिए नहीं, बल्कि आधिकारिक उद्देश्य के लिए किया था।
कांग्रेस ने पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर PM मोदी के आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि यह उनकी घबराहट को दिखाता है।
कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ’30 साल बात मृत प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बारे में टिप्पणी की जा रही है।
मोदी के आरोप से लाल कांग्रेस ने पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, ‘रक्षा मंत्रालय से संबंधित मुद्दों पर सिर्फ ऑफिशल ट्रिप होती है। एक सिटिंग प्रधानमंत्री वहां जाते हैं। उनके साथ जो जाता है, उसकी सूची होती है।
कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने भी पूर्व पीएम का खुलकर बचाव किया है। उन्होंने कहा कि मोदी, राजीव गांधी पर हमला कर रहे हैं क्योंकि उनके पास मतदाताओं के समक्ष प्रस्तुत करने के लिए उनकी सरकार की कोई उपलब्धि नहीं है।
उन्होंने कहा, ‘वाइस एडमिरल (सेवानिवृत्त) विनोद पसरीचा ने टीवी चैनल्‍स से कहा है कि यह झूठ है। राजीव गांधी एक आधिकारिक यात्रा पर थे। यह छुट्टी नहीं थी। तथ्य मोदी के लिए मायने नहीं रखते।’
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पिता को लेकर पीएम मोदी द्वारा दिए गए बयान के बाद कहा कि पीएम मोदी को राफेल पर भी बात करनी चाहिए।
पीएम मोदी ने राजीव पर यह कहा था
पीएम मोदी ने बुधवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में कहा था, ‘आज की पीढ़ी को कुछ सच्चाइयों से परिचित होना जरूरी है। कांग्रेस के नामदार मुझे गाली देने में कोई कमी नहीं रखते हैं। कांग्रेस के नामदार कह रहे हैं कि सेना किसी जागीर नहीं है। देश की रक्षा करने वाली सेना को अपनी जागीर कौन समझता है, यह मैं बताऊंगा। क्या आपने सुना है कि कोई अपने परिवार के साथ युद्धपोत से छुट्टियां मनाने जाए। यह हमारे ही देश में हुआ है।’ पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस के नामदार परिवार ने INS विराट का अपनी टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया था। उसका अपमान किया था। यह बात तब की है, राजीव गांधी भारत के पीएम थे और 10 दिन की छुट्टियां मनाने निकले थे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »