Congress का हाथ चिदंबरम के साथ, मोदी सरकार पर हमला बोला

नई दिल्‍ली। INX मीडिया केस में अग्रिम जमानत खारिज होने के बाद गिरफ्तारी का सामना कर रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम के बचाव में Congress खुलकर खड़ी हो गई है। पूर्व Congress अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी ने चिदंबरम का समर्थन करते हुए मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला है। राहुल ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ईडी, सीबीआई और कुछ मीडिया समूहों के जरिए चिदंबरम का चरित्र हनन कर रही है। वहीं, प्रियंका ने कहा कि केंद्र की सच्चाई उजागर करने वाले चिदंबरम से सरकार असहज है।
पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम हाई कोर्ट से अग्रिम जमानत खारिज होने के बाद से भूमिगत हैं। सुप्रीम कोर्ट से भी उन्हें अभी तक अंतरिम राहत नहीं मिल पाई है। ईडी और सीबीआई के अधिकारी उन्हें लगातार तलाश रहे हैं। चिदंबरम को लेकर लुकआउट नोटिस भी जारी कर दिया गया है, जिससे अब वह विदेश नहीं जा सकेंगे।
यह सत्ता का दुरुपयोग हैः राहुल गांधी
चिदंबरम पर सीबीआई और ईडी के इस ऐक्शन से खफा Congress ने मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। राहुल ने ट्विटर पर मोदी सरकार के खिलाफ तीखी टिप्पणियां कीं। राहुल ने लिखा, ‘मोदी सरकार ईडी, सीबीआई और मीडिया के एक समूह का इस्तेमाल चिदंबरम के चरित्र हनन के लिए कर रही है। मैं सत्ता के इस दुरुपयोग की निंदा करता हूं।’
चिदंबरम से असहज हैं कायरः प्रियंका
इससे पह प्रियंका ने कहा कि पार्टी चिदंबरम के साथ हर वक्त खड़ी है और नतीजों की परवाह किए वह बिना सचाई के साथ खड़ी रहेगी। प्रियंका ने लिखा, ‘योग्य और सम्मानित राज्यसभा सदस्य पी. चिदंबरम ने दशकों तक देश की सेवा की है, जिसमें वित्त मंत्री और गृह मंत्री के रूप में की गई उनकी सेवा भी शामिल है। वह बेहिचक सत्ता की हकीकत बयां करते रहे हैं और इस सरकार की असफलताएं उजागर करते रहते हैं, लेकिन यह सच्चाई कायरों को असहज कर रही है इसलिए शर्मनाक तरीके से उनका पीछा किया जा रहा है। हम उनके साथ खड़े हैं और सचाई के लिए लड़ते रहेंगे, चाहे नतीजे जो भी हों।’
सिंघवी भी उतरे समर्थन में
Congress के वरिष्ठ नेता और अभिषेक मनु सिंघवी ने भी चिदंबरम का समर्थन करते हुए ट्वीट किया, ‘इस केस में सनसनी फैलाई जा रही है जिससे एक बड़े राजनीतिक व्यक्ति का चरित्र हनन हो सकता है। कोई ऐसा शख्स भगोड़ा कैसे हो सकता है जो कल शाम 6.30 बजे तक मेरे साथ कानूनी मुद्दों पर चर्चा कर रहा था?’
बार-बार चिदंबरम को घर पर तलाशते रहे अधिकारी
दिल्ली हाई कोर्ट ने आईएनएक्स मीडिया केस में फंसे चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका मंगलवार को खारिज कर दी थी। चिदंबरम ने गिरफ्तारी से बचने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया लेकिन उसने तुरंत सुनवाई से इंकार कर दिया। चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका खारिज करने के बाद से केंद्रीय जांच ब्यूरो और प्रवर्तन निदेशलय की टीमें चिदंबरम के जोर बाग स्थित आवास पर बार-बार चक्कर काट रही हैं। चिदंबरम के वकील ने कहा कि लुकआउट नोटिस राजनीतिक बदले के तहत जारी किया गया है क्योंकि पूर्व मंत्री के भागने का खतरा नहीं है। अब नजरें सुप्रीम कोर्ट पर टिकी हैं। अगर सुप्रीम कोर्ट ने भी चिंदबरम की अग्रिम जमानत याचिका मंजूर नहीं की तो उनकी गिरफ्तारी तय है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »