Aap के साथ गठबंधन को लेकर कांग्रेस में दोफाड़, आज फैसला संभव

नई दिल्‍ली। Aap (आम आदमी पार्टी) के साथ गठबंधन को लेकर आज भी कांग्रेस पूरी तरह दोफाड़ दिखाई दी। शीला दीक्षित खेमे ने जहां एक बार फिर इसके विरोध में राय रखी, वहीं चाको-माकन गुट ने खुलकर गठबंधन की पैरवी की। अब फाइनल फैसला राहुल गांधी पर छोड़ा गया है। कांग्रेस नेताओं के मुताबिक शाम तक गठबंधन पर फैसला हो जाएगा।
दरअसल, इस मुद्दे पर आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित, दिल्ली प्रभारी पीसी चाको और अजय माकन के साथ मंथन किया। बैठक में गठबंधन को लेकर तीखे मतभेद फिर उभर कर सामने आए।
राहुल के साथ बैठक के बाद कांग्रेस नेता जय प्रकाश अग्रवाल ने कहा कि आखिरी फैसला राहुल गांधी लेंगे। वह जो फैसला लेंगे, वह सभी को मंजूर होगा। उन्होंने कहा कि गठबंधन को लेकर दोराय हो सकती है लेकिन हाइकमान का फैसला सबको मान्य होगा। उन्होंने कहा कि हालांकि वह इस गठबंधन के पक्ष में नहीं हैं।
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया ने भी खुलकर गठबंधन का विरोध किया। लिलोठिया ने कहा कि उन्हें संगठन को मजबूत करने की जिम्मेदारी दी गई है, गठबंधन नहीं है। उन्होंने कहा, ‘सभी लोगों ने राहुल गांधी के समाने अपने राय रखी। राहुल अब इस पर फैसला लेंगे। हमें दिल्ली के अंदर संगठन मजूबत करना है, गठबंधन को मजबूत नहीं करना है। मुझे राहुल गांधी ने संगठन मजबूत करने के लिए ही कार्यकारी अध्यक्ष बनाया है।’
Aap और खुद अरविंद केजरीवाल लोकसभा चुनावों में बीजेपी को हराने के लिए कांग्रेस को कई बार गठबंधन का ऑफर दे चुके हैं। दिल्ली की 7 सीटों पर गठबंधन के लिए कांग्रेस पार्टी के अंदर एक राय नहीं है। सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि शीला दीक्षित से गठबंधन के फैसले पर पार्टी हित में उतरने के लिए प्रियंका गांधी ने आग्रह किया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »