उमर खालिद का इकबालिया बयान, दिल्‍ली हिंसा में महिला-बच्‍चों का हुआ इस्‍तेमाल

नई दिल्‍ली। दिल्‍ली में फैली हिंसा के आरोपी उमर खालिद के खिलाफ पुलिस ने आज चार्जशीट दाखिल की है. जिसमें उमर खालिद का पुलिस को दिया गया इकबालिया बयान भी शामिल किया गया है. अपने इस बयान में उमर खालिद ने फैलाई गई हिंसा के लिए साजिश रचने और महिलाओं व बच्‍चों के इस्‍तेमाल करने संबंधी कई खुलासे किए हैं.
इस बयान में उमर ने कहा है, ‘2019 में जिस तरह से संसद में भारत सरकार ने नागरिकता संसोधन बिल पेश किया. उसके बाद मैंने अपने साथी जो यूनाइटेड अगेंस्ट हेट के सदस्य थे, हम सब ने मिलकर एक मीटिंग की कि एंटी सीएए CAA बिल मुसलमानों के खिलाफ है. इसके लिए हमें आवाज उठानी चाहिए. मेरी बात पर यूनाइटेड अगेंस्ट हेट के सदस्य सहमत हो गए. तब हमने योजना बनाई की JNU और जामिया Jamia के मुस्लिम छात्र मिलकर इस बिल के खिलाफ आवाज उठाते है क्योंकि भारत सरकार बिना दबाव बनाए इस बिल को वापस नही लेगी. जिसके बाद हमने यूनाइटेड अगेंस्ट हेट, जेएनयू और जामिया के मुस्लिम छात्रों को इकट्ठा करने के लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया, जिसमें देखते ही देखते काफी लोग इकट्ठा हो गए.’
उमर ने आगे कहा है, ‘फिर हमने जंतर मंतर पर धरने प्रदर्शन किए सरकार के खिलाफ प्रदर्शन शुरू किए. जिसके बाद मेने अपने साथियों के साथ मीटिंग की और अपने आंदोलन को अगले पड़ाव पर ले जाने की प्लानिंग बनाई. जिसके लिए हमने बच्चों और औरतों को आगे रखकर पूरी दिल्ली में चक्का जाम करने की योजना बनाई. इसके लिए बाकायदा एक और नया व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया ‘ हम भारत के लोग’ नाम से. उधर जब तक एंटी CAA बिल लोकसभा में पास कर दिया गया था और यह एक कानून बन गया.’
‘इसके बाद हमने योजना बनाई कि हमें और सख्त तरीक़े से चक्का जाम करने की जरूरत है. हमने 16 और 17 फरवरी की शाम एक मीटिंग में तय किया कि दंगा ही एक मात्र तरीका है जिससे भारत सरकार पर दबाव बनाया जा सकता है. फिर मैंने ही लोगों से कहा कि वो अपने पास पत्थर तेजाब पेट्रोल और हथियारो को इकट्ठा करके रखें और जब जरूरत पड़ेगी इसका इस्तेमाल करें. मैं दिल्ली में करीब 23-24 जगह चल रहे एंटी CAA प्रदर्शनो में शामिल हुआ. मैं अमरावती और महाराष्ट्र भी प्रदर्शन में शामिल होने गया था. जहां मैंने कहा की हम सब डोनॉल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान 24 फरवरी को सड़कों पर आकर भारत सरकार पर दबाव बनाएंगे. और हमारे लोगो ने अपनी योजना के मुताबिक डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ही 24 तारीख को दिल्ली के अलग अलग इलाको में चक्का जाम दंगे करवाना शुरू कर दिए. देखते ही देखते उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाको में दंगे फैल गए.’
बता दें कि न्यूज18 इंडिया के पास उमर खालिद के इकबालिया बयान की कॉपी भी मौजूद है. साथ ही यह बयान चार्जशीट में भी शामिल किया गया है.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *