युवा प्रतिभाओं के कारण टीम इंडिया में प्रतिस्पर्धा बढ़ी है: शिखर धवन

माउंट मोनुनगाई। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने शुक्रवार को कहा कि पृथ्वी साव और शुभमन गिल के भारतीय टीम में आने से साबित हो गया है कि युवा प्रतिभाएं तेजी से ‘परिपक्व’ हो रही हैं और इससे टीम के भीतर प्रतिस्पर्धा बढ़ी है।
साव ने अक्टूबर में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया, जबकि गिल ने न्यू जीलैंड के खिलाफ मौजूदा वनडे सीरीज में टीम में जगह बनाई है। दोनों बल्लेबाजों ने एक साल पहले न्यू जीलैंड में भारत की अंडर 19 विश्व कप जीत में अहम भूमिका निभाई।
धवन ने न्यू जीलैंड के खिलाफ दूसरे वनडे से पहले कहा, ‘मेरा मानना है कि युवा खिलाड़ी तेजी से परिपक्व हो रहे हैं जिससे टीम में प्रतिस्पर्धा बढ़ी है। हर किसी को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।’
उन्होंने कहा, ‘पृथ्वी साव ने टीम में आकर वेस्ट इंडीज के खिलाफ शतक जमाया और 70 रन बनाए। इससे पता चलता है कि हमारी बेंच स्ट्रेंथ कितनी मजबूत है। टीम के 15 सदस्यों के बीच भी काफी प्रतिस्पर्धा है।’
धवन ने पहले वनडे में नाबाद 75 रन बनाकर इस प्रारूप में 5000 रन भी पूरे किए। उन्होंने कहा, ‘इससे पता चलता है कि मैं अच्छा खेल रहा हूं।’ यह पूछने पर कि क्या ऑस्ट्रेलिया के बाद उन्होंने अपने खेल में कोई बदलाव किया, उन्होंने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया और न्यू जीलैंड में हालात एक से ही है। मैं अब अनुभवी खिलाड़ी हूं और यहां पहले भी आ चुका हूं। मुझे पता है कि यहां क्या करना है और क्या नहीं करना है। मुझे पता है कि मैं हर तरह की विकेट पर अच्छा खेल सकता हूं।’
उन्होंने कहा, ‘मैंने न्यू जीलैंड दौरे के लिए फुटवर्क और तकनीक पर कोई काम नहीं किया और किया भी होगा तो बताऊंगा नहीं। अनुभवी होने पर आपका दिमाग स्थिर और शांत हो जाता है।’ नेपियर में कप्तान विराट कोहली के साथ साझेदारी के बारे में उन्होंने कहा, ‘विराट के साथ बल्लेबाजी का फायदा यह है कि वह काफी तेजी से स्ट्राइक रोटेट करते हैं। इससे विरोधी टीम पर दबाव बनता है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »