आगरा के Mantola में सांप्रदायिक बवाल, 10 घायल, पुलिस तैनात

आगरा। शहर के संवेदनशील इलाकों में शामिल Mantola के टीला नंदराम में रविवार रात आठ बजे सांप्रदायिक बवाल हो गया,  जिसमें 10 लोग घायल हो गए  और पुलिस तैनात कर दी गई है हालांकि Mantola क्षेत्र में हुए सांप्रदायिक बवाल के बारे में एसपी सिटी प्रशांत वर्मा ने कहा कि किसी भी पक्ष से तहरीर नहीं आई है। हमलावरों की तलाश की जा रही है। पुलिस अपनी ओर से केस दर्ज करेगी। एहतियातन फोर्स तैनात कर दी गई है।
घटनाक्रम के अनुसार Mantola की अनुसूचित जाति की बस्ती के युवक प्रमोद को मुंडापाड़ा में टांग अड़ाकर गिरा दिया जाना। आरोप दूसरे समुदाय के लोगों पर लगा। दोनों ओर से लोग इकट्ठा हो गए। इसके बाद पथराव हुआ, फायरिंग हुई, बोतलें भी फेंकी गईं। पथराव में दस लोग घायल हो गए। भारी तनाव बना है। छह थानों की फोर्स तैनात की गई है।
प्रमोद मुंडापाड़ा में आरओ प्लांट से पानी लेने गया था। वह पानी लेकर घर आ रहा था। आरोप है कि दूसरे समुदाय के युवक ने टांग अड़ाकर उसे गिरा दिया। वह वहां से आकर परिवार के लोगों को लेकर पहुंचा तो उधर से बल्लू, अकरम, यूसुफ, शेरा और मजीद समेत सैकड़ों लोग आ गए।

उन्होंने अनुसूचित जाति की बस्ती पर हमला बोल दिया। उधर, मौके पर मौजूद लोगों का कहना है कि पथराव दोनों ओर से हुआ। अकरम, शेरा पक्ष की ओर से बोतलें भी फेंकी गईं और फायर भी किए गए। पथराव में प्रमोद पक्ष के अरुण प्रसाद, धीरज, प्रमोद, चंद्रा देवी, प्रेम चंद घायल हो गए। पुलिस के पहुंचने पर बलवाई भाग गए। कई घरों पर ताले लटके मिले।

मुंडापाड़ा में पूरी सड़क पत्थरों और कांच से पट गई थी। प्रमोद ने बताया कि उनके परिवार के तीन घर हैं। तीनों में तोड़फोड़ की गई है। उधर, तनाव को देखते हुए छत्ता से लेकर सदर सर्किल तक की फोर्स तैनात की गई है। खुफिया पुलिस भी लगा दी गई है। बलवे में शामिल रहे लोगों की पहचान की जा रही है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि दस लोगों के नाम मिल चुके हैं। इन्हें कभी भी गिरफ्तार किया जा सकता है।

 

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *