नए मोटर व्‍हीकल एक्ट के खिलाफ कॉमर्शियल वाहन मालिकों की हड़ताल कल

नई दिल्‍ली। नए मोटर व्‍हीकल एक्ट के तहत ट्रैफिक फाइन कई गुना बढ़ाए जाने के विरोध में कॉमर्शियल वाहन मालिकों ने गुरुवार को देशभर में हड़ताल का ऐलान किया है।
ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने केंद्र सरकार से एक्ट में हाल में किए गए बदलावों को वापस लेने की मांग की है और ट्रैफिक जुर्माने में कई गुना बढ़ोत्तरी के खिलाफ विरोध दर्ज कराने के लिए देशभर में 19 सितंबर को हड़ताल की घोषणा की है। उन्होंने निजी वाहनों के मालिकों, वैन और ऑटो रिक्शा ड्राइवरों से भी हड़ताल को समर्थन की अपील की है। हड़ताल को देखते हुए नोएडा के कुछ स्कूलों ने गुरुवार को 5वीं तक के छात्रों के लिए छुट्टी का ऐलान किया है।
नोएडा ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने भी ट्रैफिक जुर्माना बढ़ाए जाने के खिलाफ गुरुवार को होने वाली हड़ताल में शामिल होने का ऐलान किया है। दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में ट्रकों, बसों और अन्य कॉमर्शियल वाहनों के मालिक पहले से ही नए मोटर व्‍हीकल एक्ट का विरोध कर रहे हैं। हड़ताल में दिल्ली और एनसीआर की 49 ट्रांसपोर्ट यूनियन शामिल होंगी। दूसरी तरफ, हरियाणा में ट्रक मालिकों और ड्राइवरों ने बुधवार को दिल्ली तक विरोध मार्च निकालने का फैसला किया है।
नोएडा ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष वेदपाल सिंह का दावा है कि उन्हें कम से कम 40,000 वाहन मालिकों का समर्थन हासिल है। हरियाणा में ट्रक मालिकों और ड्राइवरों ने बुधवार को हिसार से जींद और बहादुरगढ़ होते हुए दिल्ली तक विरोध मार्च निकालेंगे। यूनाइटेड फ्रंट ऑफ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने मंगलवार को दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन भी किया था। एसोसिएशन का कहना है कि स्कूली बसों और ऑटो रिक्शा ड्राइवरों को भी हड़ताल में शामिल होने के लिए कहा गया है।
बता दें कि पिछले महीने सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर 1 सितंबर से नए मोटर व्‍हीकल एक्ट को लागू किया था। नए एक्ट में नियमों के उल्लंघन पर पहले के मुकाबले कई गुना जुर्माने का प्रावधान है। नया कानून लागू होने के बाद से देशभर से तगड़े ट्रैफिक जुर्माने की खबरें लगातार आ रही हैं। कहीं ट्रक का 1 लाख 41 हजार का चालान हो रहा है तो कहीं किसी स्कूटी का 23 हजार का चालान काटा जा रहा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »