राहुल गांधी के खिलाफ आवाज उठाने पर पूनावाला बंधुओं में घमासान

नई दिल्ली। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाए जाने के खिलाफ आवाज उठाने वाले कांग्रेस नेता शहजाद पूनावाला के परिवार में ही इस मुद्दे को लेकर घमासान छिड़ गया है।
उनके भाई और कांग्रेस समर्थक माने जाने वाले तहसीन पूनावाला ने शहजाद के स्टैंड को पूरी तरह गलत बताते हुए उनसे अपना रिश्ता तक तोड़ने का ऐलान कर दिया है। हैरानी जताते हुए उन्होंने कहा है कि शहजाद ये सब ऐसे वक्त में कर रहे हैं जब कांग्रेस गुजरात में जीत रही है। उन्होंने यह भी कहा कि राहुल गांधी को ही कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने की जरूरत है।
शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव को पाखंड और फिक्स करार दिया था। जवाब में उनके भाई तहसीन ने ट्विटर पर लिखा, ‘ऐसे वक्त में जब कांग्रेस गुजरात जीत रही है, शहजाद जो कुछ कर रहे हैं, उससे मैं हैरान हूं। मैं आधिकारिक तौर पर उनसे अपने सभी राजनीतिक रिश्ते तोड़ता हूं। कांग्रेस अध्यक्ष के पद पर राहुल गांधी की जरूरत है।’
इस ट्वीट के बाद तहसीन ने एक और ट्वीट किया और शहजाद से अपने सभी रिश्ते तोड़ने का ऐलान कर दिया। उन्होंने लिखा, ‘मैं आधिकारिक तौर पर शहजाद से अपने सभी रिश्ते खत्म कर रहा हूं। मैं कभी इस हद तक आहत नहीं हुआ। हमें बीजेपी को हराना था। मुझे यह स्वीकार नहीं है। मैं बहुत बहुत ज्यादा आहत हुआ हूं। मेरी पीठ पर खंजर भोंका गया है…और कैसे।’
एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘मैंने शहजाद को अपने बच्चे की तरह बड़ा किया है। उसे इस तरह ये सब करते देखकर मुझे दर्द होता है। यह पूरी तरह अस्वीकार्य है। हमें कांग्रेस और उसके सहयोगियों को जीत के लिए मजबूत करना है। किसी भी तरह की शिकायत को उचित फोरम पर रखा जा सकता था। मैं और मेरी पत्नी खुद को उनसे अलग करते हैं।’ तहसीन ने यह भी कहा कि शहजाद ने ऐसा करने से पहले एक बार भी उनसे बात नहीं की।
-एजेंसी