CM Yogi ने कहा, बिना वजह के 3 दिन से ज्यादा रोकी फाइल, तो होगी कार्यवाही

लखनऊ। CM Yogi ने आज नौकरशाही को सुधरने के लिए नसीहत और चेतावनी देते हुए कहा कि बिना वजह के 3 दिन से ज्यादा रोकी फाइल, तो कार्यवाही के लिए तैयार रहें।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश के सभी विभागों से भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ एक्शन के लिए तैयार है। गुरुवार (02 अगस्त) को उन्होंने ये निर्देश जारी किए हैं कि सभी फाइलों का निस्तारण तीन दिन के अंदर किया जाए।

CM Yogi ने कहा कि शासन-प्रशासन के सभी विभाग के अधिकारी हर पत्रावली का निस्तारण तीन दिन में करें। उन्होंने कहा कि बिना किसी कारण अगर तीन दिनों से ज्यादा फाइलें रोकी गईं, तो कार्यवाही उसके खिलाफ की जाएगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नौकरशाही को सुधारने के लिए कई बार नसीहत और चेतावनी दे चुके हैं। लगातार मिल रही शिकायतों को देखते हुए सीएम ने मुख्‍य सचिव अनूप चंद पांडेय की अध्‍यक्षता में टास्‍क फोर्स गठित की गई है। भ्रष्‍टाचार से निपटने के लिए यूपी की सभी जांच एजेंसियों के प्रमुख को टास्‍क फोर्स में शामिल किया गया है।

इससे पहले भी सीएम योगी आदित्यनाथ ने शासन स्तर पर अधिकारियों के खिलाफ लंबित मामलों में दो महीने के अंदर कार्यवाही पूरी करने को आदेश दिए थे। एसआईटी, ईओडब्ल्यू, एंटी करप्शन, विजिलेंस, कोऑपरेटिव सेल, सीबीसीआईडी की लंबित जांच में गति लाने के निर्देश दिए हैं। CM Yogi ने 400 से अधिक लंबित मामलों में कार्रवाई के लिए दो महीने की डेडलाइन निर्धारित की।

 

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »