सीएम योगी ने कहा, 2017 से पहले उत्तर प्रदेश को विकास में बाधक माना जाता था

पीएम गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान फॉर मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी इन नॉर्दर्न रीजन की जोनल कॉन्फ्रेंस में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 से पहले उत्तर प्रदेश को विकास में बाधक माना जाता था, लेकिन अब यह विकास का प्रतीक बन चुका है। पिछले साढे़ चार साल में प्रदेश में कोई दंगा नहीं हुआ और कानून व्यवस्था इतनी मजबूत हुई कि यहां निवेशकों ने भी अपना रुख किया। इसके विकास का यह भी एक बड़ा कारण है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में इंफ्रास्ट्रक्चर की स्पीड बहुत कम थी। यह कछुए या केंचुए जैसी थी लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने उसके लिए कार्य किया। इस पर उत्तर प्रदेश सरकार ने सबसे तेजी से अमल किया और आज इसकी गति हमारे यहां सबसे ज्यादा है। पूर्वांचल का 340 किलोमीटर का एक्सप्रेसवे इसका उदाहरण है। 20 माह में पूरा करके इसे राष्ट्र को समर्पित कर दिया गया है। सारे कार्य तेजी से हुए हैं। चाहे मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेसवे हो, बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे या अन्य दूसरे कार्य, सभी द्रुतगति से हो रहे हैं। हमने छह एक्सप्रेस वे पर वर्क पर काम किया है जबकि आजादी के बाद से केवल डेढ़ एक्सप्रेसवे पर ही काम हो पाया था। हम एयरपोर्ट बना रहे हैं।

पहले प्रदेश के 25 स्थानों तक ही हवाई कनेक्टिविटी होती थी, लेकिन अब प्रदेश के 80 स्थान हवाई कनेक्टिविटी से जुड़े हैं। 11 स्थानों पर नए एयरपोर्ट पर काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि जेवर में एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बन रहा है। यह वही स्थान है, जिसके पास ही भट्टा पारसौल में किसान मारे गए थे और अब किसानों ने चार गुने नहीं, बल्कि दोगुने दाम में अपनी जमीन समर्पित कर दी। यह उनके साथ बेहतर संवाद का परिणाम रहा, अभी और किसान भी सरकार को अपनी जमीन समर्पित करने जा रहे हैं।

सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश विकास के पथ पर इस तेजी से आगे बढ़ रहा है कि सभी राज्यों यहां तक कि नेपाल  की सीमाओं को फोरलेन कनेक्टिविटी से जोड़ा गया है। हर जनपद मुख्यालय तहसील मुख्यालय को टू लेन कनेक्टिविटी दी गई है। गांव-गांव 16 घंटे बिजली पहुंचाने का काम किया और प्रयास है कि जल्द ही गांव हो या शहर 24 घंटे विद्युत आपूर्ति की जाए। उन्होंने कहा कि चाहे स्मार्ट सिटी हो चाहे डिफेंस कॉरिडोर के छह डोर हो ब्रह्मोस मिसाइल के लिए जमीन देने की व्यवस्था हो,  मेडिकल कॉलेज हो इन सभी में उत्तर प्रदेश अग्रणी है। यह सब प्रधानमंत्री के कुशल नेतृत्व और निर्देशन में संपन्न हो रहा है। उन्होंने कहा कि शक्ति गति का सीधा अर्थ है कि जहां शक्ति है वही गति होगी और जहां गति है वही शक्ति आएगी। इसी थीम पर काम करते हुए उत्तर प्रदेश आगे बढ़ रहा है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *