लखीमपुर खीरी कांड में CM योगी ने दिए जांच के आदेश, हाई कोर्ट पहुंचा मामला

लखीमपुर खीरी में रविवार को हुई हिंसा से अब तक 9 लोगों की जान जा चुकी है। तिकुनिया में कवरेज के लिए गए एक पत्रकार की भी मौत हुई है।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर खीरी घटना की जांच के आदेश दिए हैं। पुलिस 7 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। यूपी सरकार ने धारा 144 का हवाला देते हुए पंजाब के मुख्य सचिव को पत्र लिखा और वहां के लोगों लखीमपुर खीरी आने से रोकने का आवेदन किया है।
लखीमपुर खीरी में कल क्या हुआ?
लखीमपुर जिला मुख्यालय से करीब 75 किमी दूर नेपाल की सीमा से सटे तिकुनिया गांव में हुई हिंसा और आगजनी में अब तक 9 लोगों की मौत हो चुकी है। खीरी से सांसद और केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के गांव बनबीरपुर में डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का पहले से तय कार्यक्रम था। डेप्युटी सीएम के रूट पर कुछ किसान काले झंडे लेकर खड़े थे, तभी एक काली जीप ने कुछ किसानों को टक्कर मार दी। लखीमपुर खीरी में फैली हिंसा में अब तक कुल 9 लोगों की जान गई है।
बीजेपी सांसद अजय मिश्रा के बेटे पर एफआईआर
लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने दो एफआईआर दर्ज की हैं। अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने बताया कि इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पुत्र आशीष मिश्रा सहित कई अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया हैं। उन्होंने कहा कि अभी एफआईआर की कॉपी उपलब्ध नहीं हुई है इसलिए किन-किन धाराओं में मामला दर्ज हुआ है, इस बारे में जानकारी नहीं है।
प्रियंका-अखिलेश समेत विपक्षी नेता रोके गए
लखीमपुर खीरी जा रहे सभी विपक्षी नेताओं को रोका गया। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ से लखीमपुर जाने से रोक दिया गया, जिसके बाद अखिलेश सड़क पर ही धरने पर बैठ गए। बाद में उन्हें और मुख्य महासचिव रामगोपाल यादव को हिरासत में ले लिया गया। लखीमपुर खीरी जाने की कोशिश करने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के मुखिया शिवपाल सिंह यादव को हिरासत में ले लिया गया।
राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी और आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह को रास्ते में अलग-अलग स्थानों पर रोक लिया गया। बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र को भी लखीमपुर जाने से रोका गया।
बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने की सीबीआई जांच की मांग
लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने खेद जताया है। वरुण ने सीएम योगी आदित्यनाथ को खत लिखकर सीबीआई जांच और पीड़ित परिवारों को एक करोड़ रुपये मुआवजे की मांग की है। वरुण ने किसानों को शहीद बताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। वरुण बीते कई रोज से किसान मुद्दों को लेकर बीजेपी सरकार को घेरते आए हैं। इससे पहले उन्होंने किसान महापंचायत को लेकर हमदर्दी जताई थी और गन्ना मूल्य बढ़ाने की मांग की थी।
भूपेश बघेल और रंधावा को लखनऊ आने से रोका गया
उत्तर प्रदेश सरकार ने AAI को पत्र लिखकर लखीमपुर खीरी जाने के लिए लखनऊ आ रहे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा को स्थानीय चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डे पर उतरने की अनुमति नहीं देने का अनुरोध किया है। प्रदेश के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने प्राधिकरण को रविवार देर रात लिखे पत्र में कहा है कि लखीमपुर खीरी जिले में रविवार को हुए संघर्ष की घटना के मद्देनजर स्थानीय प्रशासन ने धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की है।
योगी आदित्यनाथ ने बुलाई बैठक
लखीमपुर खीरी घटना को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ी बैठक बुलाई है। इसमें डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना के साथ उत्तर प्रदेश सरकार के आला अधिकारी भी मौजूद हैं। लखीमपुर खीरी की घटना समेत विभिन्न बिंदुओं पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चर्चा कर रहे हैं।
लखीमपुर हिंसा में एक पत्रकार की भी मौत
लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में हुए बवाल में पत्रकार रमन कश्यप उम्र 35 वर्ष की भी मौत हुई है। गाड़ी की जोरदार टक्कर से वह सड़क किनारे गिर पड़े थे।उनके पिता रामदुलारे ने पोस्टमार्टम हाउस पहुंचकर उनके शव की पहचान की है।
हाई कोर्ट पहुंचा लखीमपुर खीरी का मामला
लखीमपुर में हुई हिंसा का मामला अब इलाहाबाद हाईकोर्ट की दहलीज तक भी पहुंच गया है। मामले की सीबीआई या फिर न्यायिक जांच कराने की मांग को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक पत्र याचिका दाखिल की गई है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *