नोएडा में बने कोविड-19 अस्‍पताल का लोकार्पण किया सीएम योगी ने

नोएडा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को टाटा कंपनी के सहयोग से 344 करोड़ रुपये की लागत से नोएडा के सेक्टर-39 में बने 420 बेड्स वाले कोविड-19 अस्पताल का उद्घाटन कर जनता को समर्पित कर दिया।
उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री योगी ने अस्पताल के डॉक्टरों से बात कर यहां की सुविधाओं और व्यवस्थाओं के विषय में जानकारी ली और इस नवनिर्मित अस्पताल के सभी वार्डों में घूम-घूमकर बारीकी से एक-एक चीज का जायजा लिया। इस दौरान जिलाधिकारी सुहास एल वाई, नोएडा पुलिस कमिश्नर, स्थानीय सांसद महेश शर्मा और और जिले के तमाम विधायक और अधिकारी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री के नोएडा आगमन को लेकर जिले में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की गई।
फिलहाल अस्पताल में सिर्फ 167 बिस्तरों पर ही कोरोना मरीजों का इलाज किया जाएगा। वर्तमान में इस अस्पताल में तीन आईसीयू में 28 बिस्तर, एक आपातकालीन कक्ष में 9 बिस्तर और दो वार्ड में 65-65 बिस्तर के अलावा डायलिसिस यूनिट, सिटी स्कैन, लैब की व्यवस्था की गई है। अस्पताल में जरूरत के अनुसार बेड्स की संख्या बढ़ाकर 400 की जा सकती है।
यह अस्पताल जिले में सबसे बड़ा आधुनिक कोविड अस्पताल है। अस्पताल का निर्माण नोएडा प्राधिकरण की ओर से किया गया है जबकि टाटा समूह और बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन की ओर से करीब 17 करोड़ मूल्‍य के संसाधन जुटाए गए हैं। यहां प्रथम तल पर आईसीयू और आपातकालीन सेवाएं और पांचवें तल पर आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। इसके अलावा द्वितीय तल पर डायलिसिस यूनिट व सिटी स्कैन की व्यवस्था की गई है।
वर्तमान में चाइल्ड पीजीआई में 50, ग्रेनो राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) में 150 बेड की सुविधा है। यहां करीब 100 स्वास्थ्य कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने डॉक्टरों की सूची तैयार कर ली है। सभी डॉक्टर जिले की विभिन्न सीएचसी-पीएचसी से जुड़े हैं।
अस्पताल का उद्घाटन करने के बाद मुख्यमंत्री सेक्टर-128 स्थित कोविड-19 के लिए बनाए गए एकीकृत नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण करने भी जाएंगे।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नोएडा आगमन के मद्देनजर पुलिस की ओर से पूरे जिले सुरक्षा कड़ी कर दी गई। यहां शुक्रवार से दो दिनों के लिए गौतमबुद्ध नगर में किसी भी प्रकार के ड्रोन कैमरों के संचालन पर रोक लगा दी गई थी। कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर गौतमबुद्ध नगर में पहले से ही धारा 144 लागू है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *