सीएम योगी ने प्रवासी श्रमिकों को लेकर कांग्रेस से पूछे चार सवाल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में प्रवासी श्रमिकों को लेकर कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। सीएम योगी आदित्यनाथ जहां कांग्रेस पर राजनीति करने का आरोप लगा रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस योगी सरकार पर आरोप मढ़ रही है। प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर आरोप लगाया कि वह एक हजार बसें प्रवासी श्रमिकों के लिए चलाना चाहती हैं लेकिन योगी सरकार अनुमति नहीं दे रही। इधर अब योगी सरकार ने इस बात को लेकर कांग्रेस से चार सवाल पूछे हैं।
योगी सरकार के आधिकारिक अकाउंट से सोमवार को ट्वीट किया गया कि मजदूरों की मददगार बनने का स्वांग रच रही कांग्रेस से मजदूर भाइयों और बहनों के कुछ सवाल। इस ट्वीट के बाद आगे लगातार चार ट्वीट करके सवाल पूछे गए।
योगी ने कहा, ‘औरैया में जो दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है। कांग्रेस नेतृत्व को समझना चाहिए कि उनमें से एक ट्रक झारखंड से आया था और दूसरा ट्रक पंजाब से आया था। प्रवासी कामगारों व श्रमिकों से भारी पैसा वसूला गया। बिहार और झारखंड जाने के लिए गरीबों से रुपया वसूला गया तब क्या कर रहे थे?’
योगी सरकार ने पहला सवाल पूछा कि जब आपके पास 1000 बसें थीं, तो राजस्थान और महाराष्ट्र से ट्रकों में भरकर हमारे साथियों को उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड व बंगाल क्यों भेज रहे हैं?
दूसरा सवाल पूछा गया कि औरैया में हुई दर्दनाक सड़क दुर्घटना से पूरा देश आहत है। एक ट्रक पंजाब से और दूसरा राजस्थान से आ रहा था। क्या कांग्रेस और प्रियंका गांधी इस दुर्घटना की जिम्मेदारी लेंगी, हमारे साथियों से माफी मांगेंगी?
तीसरा सवाल कि जब प्रियंका गांधी कहती हैं कि उनके पास 1000 बसें हैं। यह और बात है कि अब तक इन बसों की सूची तक उपलब्ध नहीं कराई गई, न ही हमारे साथियों की। बसों और हमारे साथियों की सूची उपलब्ध करा दी जाए, जिससे उनके कार्य ट्विटर नहीं धरातल पर दिखें।
देशभर में जितनी भी श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चल रही हैं उनमें से आधी से ज्यादा ट्रेनें उत्तर प्रदेश ही आई हैं। अगर प्रियंका वाड्रा जी को हमारी इतनी ही चिंता है तो वे हमारे बाकी साथियों को भी ट्रेनों से ही सुरक्षित भेजने का इंतजाम कांग्रेस शासित राज्यों से क्यों नहीं करा रहीं?
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *