अयोध्या पहुंचे सीएम योगी, राम मंदिर की नींव का निरीक्षण किया

अयोध्‍या। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को एक दिवसीय दौरे पर अयोध्या पहुंच गए हैं। सीएम योगी ने राम मंदिर की नींव खुदाई का निरीक्षण किया। वे हनुमानगढ़ी में दर्शन पूजन कर रामकथा संग्रहालय में मीटिंग के लिए पहुंच गए हैं। सीएम योगी ने मणिराम दास छावनी, महंत नृत्यगोपालदास से मुलाकात की। महंत नृत्यगोपालदास श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं।

पूरे अयोध्या को अभेद्य किले में तब्दील कर दिया गया है। मुख्यमंत्री के आने पर पहली बार इस तरह की सुरक्षा-व्यवस्था दिख रही है। भक्तों को मुख्यमंत्री के आने से आधा घंटा पहले दर्शन से रोक दिया गया है। हनुमानगढ़ी रामलला और कनक भवन जाने वाले रास्ते पूरी तरह बंद कर दिए गए हैं। पैदल आने-जाने पर भी रोक लगा दी गई है। इसके पहले भी मुख्यमंत्री करीब 8 बार राम नगरी में आ चुके हैं, लेकिन इस तरह की सुरक्षा कभी नहीं दिखी। न ही भक्तों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

पूरी तरह प्रवेश प्रतिबंधित 
मुख्यमंत्री का स्वयं का निर्देश होता था कि भक्तों के आवागमन और पूजा पाठ में कोई बाधा नहीं उत्पन्न होनी चाहिए। इस बार प्रशासन ने हाईवे से ही आने वाले भक्तों के न सिर्फ वाहन रोक दिए, बल्कि उन्हें पैदल अयोध्या में घुसने से ही मना कर दिया है। तमाम लोग अपने बच्चों-परिवार के साथ परेशान दिखे। फैजाबाद से आने वाले मार्ग पर भी पुलिया चौराहा के पास बैरियर लगाकर पूरी तरह प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया है।

बैरियर लगाकर वाहनों को रोका जा रहा
हाईवे से नया घाट सरयू के विभिन्न घाटों हनुमानगढ़ी से उदया चौराहे तक मुख्य मार्ग और इस मार्ग से हनुमानगढ़ी से रामलला कनक भवन जाने वाले सभी मार्ग पर बैरियर लगाकर आवागमन रोक दिया गया है। श्री राम अस्पताल, दंत धवन कुंड, नया घाट, उदया चौराहा, हनुमान गुफा टेढ़ी बाजार सहित दर्जनों स्थानों पर बैरियर लगाकर वाहनों को रोका जा रहा है।

बाहर से आने वाले श्रद्धालु सबसे ज्यादा परेशान
बाहर से आने वाले श्रद्धालु सबसे ज्यादा परेशान हो रहे हैं। इस दौरान परेशान तमाम भक्तों ने दर्द बयां किया है। दर्शन को पहुंचे श्रद्धालु श्रीकांत शुक्ला ने बताया कि वे करीब 40 मिनट से टेढ़ी बाजार चौराहे पर खड़े हैं, जहां से उन्हें आगे नहीं जाने दिया जा रहा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *