बैसाखी पर CM योगी आदित्यनाथ ने गुरुद्वारे में मत्था टेका

CM Yogi Adityanath on Baisakhi in gurudwara
बैसाखी पर CM योगी आदित्यनाथ ने गुरुद्वारे में मत्था टेका

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज बैसाखी के मौके पर केसरिया कपड़ा बांधे गुरुद्वारे पहुंचे और मत्था टेका। सिख श्रद्धालुओं के बीच योगी आधे घंटे से भी अधिक देर तक रुके। इस दौरान उन्होंने सिख धर्म के गुरुओं की वीरता और त्याग के संदेश का जिक्र किया और लोगों से उन संदेशों को जिंदगी में अपनाने की अपील की।
बैसाखी के मौके पर गुरुद्वारे में भारी भीड़ थी और गुरुद्वारे को गुब्बारों से सजाया गया था। लखनऊ के याहियागंज गुरुद्वारे में भीड़ के बीच योगी का आगमन हुआ तो जयकारों में और जोश आ गया। योगी अरदास के लिए बने एक छोटे से मंच पर बैठे और लोगों के अभिवादन को स्वीकार किया।
‘खालसा पंथ और बैसाखी का पर्व हमें समानता का पाठ पढ़ाता है’
गुरुद्वारे में सीएम योगी मंच पर बैठे थे और उनकी एक झलक पाने के लिए गुरुद्रवारे में मौजूद श्रद्धालु बेताब थे। गुरुद्वारे की पहली मंजिल पर सीएम योगी को देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ जमा थी। सिख श्रद्धालुओं के बीच बैठे योगी आदित्यनाथ ने सिख धर्म और गुरु गोविंद सिंह के त्याग का जिक्र करते कहा कि लोगों को सेवा और त्याग के संदेश पर अमल करने की अपील की। योगी ने ये भी कहा कि खालसा पंथ और बैसाखी का पर्व हमें समानता का पाठ पढ़ाता है।
सबका साथ सबका विकास के नारे पर अमल करनेवाले योगी आदित्यनाथ सीऐएम बनने के बाद पहली बार किसी गुरुद्वारे में पहुंचे थे। सीएम के गुरुद्वारे आने का मकसद सिर्फ मत्था टेकना नहीं बल्कि सिख समुदाय को वैशाखी की शुभकामनाएं देना भी था। 13 अप्रैल को ही श्री गुरू गोबिंद सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की थी और पंजाब में इसे नए साल की शुरूआत माना जाता है।
तोहफे में मिली तलवार और गुरुगोविंद सिंह की तस्वीर
योगी आदित्यनाथ ने यहां एकता पर विशेष जोर देने की अपील की। सिख गुरुओं के संदेशों की याद दिलाते हुए योगी आदित्यनाथ ने छुआछूत जैसी सामाजिक बुराईयों को जड़ से खत्म करने की अपील की। सीएम योगी को यहां तलवार और गुरुगोविंद सिंह की तस्वीर तोहफे में दिया गया और केसरिया अंग वस्त्र देकर गुरुद्वारे में सीएम का सम्मान किया गया।
सभी धर्मों को साथ लेकर चलने की कोशिश में सीएम योगी ने इससे पहले इस्लाम धर्म के चौथे खलीफा हजरत अली के जन्मदिन पर प्रदेशवासियों को बधाई संदेश दिया था। सीएम बनने के बाद योगी सभी धर्मों के अहम दिनों पर बधाई और शुभकामनाएं दे रहे हैं और ये जाहिर कर रहे हैं कि यूपी की योगी सरकार सभी धर्मों के लोगों को साथ लेकर विकास की राह में आगे बढ़ना चाहती है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *