इंस्पेक्टर सुबोध की हत्या के मामले में बजरंगदल के योगेशराज को क्‍लीनचिट

बुलन्दशहर हिंसा के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध की हत्या के आरोप में 5 लोगों पर चार्जशीट दाखिल की गई है. प्रशांत नट, लोकेंद्र, डेविड, जानी और राहुल के विरुद्ध धारा 302 के तहत चार्जशीट दाखिल की गई है. बजरंगदल के जिला संयोजक योगेशराज व आरोपी भाजपा नेताओं को हत्या के मामले में पुलिस ने क्लीन चिट दे दी है. 3 दिसंबर 2018 को बुलंदशहर के स्याना में हिंसा भड़क गई थी.
गौरतलब है कि बुलंदशहर में भीड़ के हमले में इंस्पेक्टर सुबोध के अलावा एक अन्य युवक की मौत हो गई थी. इससे पहले वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) बुलन्दशहर प्रभाकर चौधरी ने बताया था कि इंस्पेक्टर ने आत्मरक्षा में गोली चलाई थी, जिसमें सुमित नाम के युवक की मौत हो गई थी. उसकी उम्र 20 साल के करीब थी. पुलिस सूत्रों के अनुसार ‘वीडियो फुटेज’ और कुछ लोगों की गवाही के आधार पर इंस्पेक्टर की हत्या में प्रशांत नट को संदिग्ध पाया गया था.
गत 3 दिसंबर 2018 को हुई इस घटना के सिलसिले में बुलन्दशहर पुलिस ने अब तक 22 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है और छह से अधिक लोगों ने अदालत में आत्मसमर्पण किया है. उल्लेखनीय है कि पहले सेना के जवान जीतू फौजी पर संदेह था, लेकिन उसके खिलाफ सबूत नहीं मिले.
इससे पहले पुलिस ने प्रशांत नट पर बुलंदशहर के चिंगरावठी में हुई हिंसा के दौरान शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार को गोली मारने का आरोप लगाया था. पुलिस का कहना था कि प्रशांत नट ने पिस्टल छीनने के बाद इंस्पेक्टर को गोली मारी थी. प्रशांत नट चिंगरावठी गांव का रहने वाला है.
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »