अगस्ता वेस्टलैंड केस में अदालत ने खारिज की christian michel की ज़मानत याचिका

नई दिल्‍ली। दिल्ली की एक अदालत ने गुरुवार को अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाला मामले में गिरफ्तार कथित बिचौलिए christian michel की जमानत याचिका खारिज कर दी। गौरतलब है कि christian michel ने ईस्टर का त्योहार अपने परिवार के साथ मनाने के लिए सात दिन की अंतरिम जमानत मांगी थी।

विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने कहा कि वह दोनों ओर के वकीलों की दलीलें सुनने के बाद शाम चार बजे फैसला सुनाएंगे। विशेष सरकारी अधिवक्ता डीपी सिंह ने सीबीआई एवं ईडी दोनों की ओर से अदालत में christian michel की याचिका का विरोध करते हुए कहा कि भारत में कई त्योहार मनाए जाते हैं। हजारों कैदी जेल में हैं और सबकी अपनी धार्मिक आस्थाएं हैं इसलिए आरोपी को त्योहार मनाने के लिए जमानत नहीं दी जा सकती।

उन्होंने कहा कि मिशेल हिरासत में रहकर भी ईस्टर मना सकता है। वकील ने कहा कि मिशेल के अंतरिम जमानत पर बाहर आने पर वह कोई बयान भी दे सकता है, जिससे जांच प्रभावित हो सकती है। वहीं मिशेल के वकील ने दलील दी कि क्योंकि आरोपपत्र दायर हो चुका है, तो सबूतों से छेड़छाड़ की कोई आशंका नहीं है।

उन्होंने कहा कि आरोपी मामले में सहयोग कर रहा है और जमानत चाहता है। आरोपी द्वारा दायर याचिका में कहा गया, ‘ईसाई होने के नाते उसे क्रिसमस के दौरान भी प्रार्थना में जाने की अनुमति नहीं दी गई थी।’

मिशेल ने याचिका में कहा, ‘14 से 21 अप्रैल तक ईसाइयों का पवित्र सप्ताह है और 21 अप्रैल को ईस्टर है, जिसे दुनिया भर में मनाया जाता है। याचिकाकर्ता ईस्टर के दिन पवित्र प्रार्थना में हिस्सा लेना चाहता है और ईस्टर के दिन प्रार्थना करना चाहेगा।’

ईडी ने christian michel और अन्य के खिलाफ चार अप्रैल को पूरक आरोपपत्र दाखिल किया था। दुबई से मिशेल को प्रत्यर्पित किए जाने के बाद ईडी ने 22 दिसंबर को उसे गिरफ्तार किया था।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »