अपने पड़ोसी देशों पर दबाव बनाकर रखना चाहता है चीन: पेंटागन

वॉशिंगटन। अमेरिका ने एक बार फिर चीन की पॉलिसी पर निशाना साधा है। अमेरिकी डिफेंस डिपार्टमेंट पेंटागन ने कहा कि चीन इंडो-पैसिफिक रीजन में पैठ जमाना चाहता है। इसके लिए वह अपने पड़ोसी देशों पर दबाव बनाकर रखना चाहता है।
एक रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन ईस्ट और साउथ चाइना सी में ताकत बढ़ाने की कोशिश में जुटा है।
हर तरह से ताकत बढ़ाने में लगा चीन
न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक पेंटागन ने कहा, “चीन लगातार अपनी इकोनॉमिक और मिलिट्री ताकत बढ़ा रहा है। ये उसकी लॉन्ग टर्म स्ट्रैटजी का हिस्सा है। इसका मतलब ये है कि वह आने वाले वक्त में इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में अपना अधिकार बढ़ाएगा।”
पेंटागन ने कांग्रेस में पेश 2019 के डिफेंस बजट में कहा, “चीन मिलिट्री मॉडर्नाइजेशन, ऑपरेशंस और अपनी इकोनॉमिक पॉलिसीज से अपने पड़ोसी देशों पर दबाव डालता है। इसका मकसद इंडो-पैसिफिक में फायदा उठाना है।”
बता दें कि चीन पूरे साउथ चाइना सी पर अपना दावा करता है जबकि यहां के इलाके पर वियतनाम, मलेशिया, फिलीपींस, ब्रुनेई और ताइवान भी दावा करते हैं।
पेंटागन ने और क्या कहा?
“अमेरिका और चीन के डिफेंस रिलेशन तभी हो सकते हैं जब दोनों देशों के बीच पारदर्शिता हो।”
“ये भी साफ है कि रूस और चीन दुनिया पर अपना प्रभुत्व बढ़ाना चाहते हैं, ताकि उनका दूसरे देशों के सिक्युरिटी, डिप्लोमैटिक और इकोनॉमिक फैसले में असर हो।”
“नॉर्थ कोरिया और ईरान जैसे देश अपने न्यूक्लियर प्रोग्राम या आतंकवाद को बढ़ावा देकर क्षेत्र में अस्थिरता पैदा कर रहे हैं।”
-एजेंसी