चीन का विरोध: जोमैटो के कर्मचारियों ने कंपनी की टी-शर्ट जलाईं

कोलकाता। फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो के कर्मचारियों ने लद्दाख के गलवान में भारतीय जवानों की शहादत को लेकर प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने कंपनी की टी-शर्ट जलाई। कोलकाता के बेहाला इलाके में प्रदर्शन किया गया। कुछ कर्मचारियों का दावा है कि उन्होंने नौकरी भी छोड़ दी। ये लोग जोमैटो में चीन की कंपनी अलीबाबा के निवेश का विरोध कर रहे थे।
प्रदर्शनकारियों ने लोगों से अपील की कि जोमैटो से फूड डिलीवरी का ऑर्डर न करें। 2018 में आंट फाइनेंशियल (यह अलीबाबा का हिस्सा है) ने जोमैटो में 210 मिलियन डॉलर (करीब 1588 करोड़ रुपए) का निवेश किया और 14.7% की हिस्सेदारी हासिल कर ली।
एक अन्य प्रदर्शनकारी ने कहा कि हम भूखे मरने के लिए तैयार हैं लेकिन ऐसी कंपनी में काम नहीं करेंगे जिसमें चीन की किसी कंपनी ने निवेश किया हो।
जोमैटो ने कई लोगों ने नौकरी से निकाल दिया था
मई में जोमैटो ने कोरोना वायरस का हवाला देते हुए 520 कर्मचारियों को निकाल दिया था। प्रदर्शन को लेकर जोमैटो की तरफ से कोई बयान सामने नहीं आया है। जिन लोगों को नौकरी से निकाला गया था, वे लोग प्रदर्शन में शामिल थे, इस बात का भी पता नहीं चल सका।
चीनी कंपनियां फायदा कमा रहीं
एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि एक तरफ चीनी कंपनियां भारत से फायदा कमा रही हैं और दूसरी तरफ हमारे जवानों पर हमला हो रहा है। वे हमारी जमीन कब्जा करने की कोशिश कर रहे हैं। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। एक अन्य प्रदर्शनकारी ने कहा कि हम भूखे मरने के लिए तैयार हैं, लेकिन ऐसी कंपनी में काम नहीं करेंगे, जिसमें चीन की किसी कंपनी ने निवेश किया हो।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *