चीन केवल गीदड़ भभकी देता रह गया, अमेरिका ने चारों ओर से घेरा साउथ चाइना सी

साउथ चाइना सी में अमेरिका और चीन की नौसेना के एक साथ युद्धाभ्‍यास करने से माहौल तनावपूर्ण हो गया है। इस बीच अब दुनियाभर में मशहूर अमेरिका के बमवर्षक विमान B-52H ने दक्षिण चीन सागर के ऊपर से उड़ान भरी है।
दक्षिण चीन सागर में जारी अमेरिकी युद्धाभ्‍यास में यूएस नेवी जोरदार शक्ति प्रदर्शन कर रही है। चीन की धमकी के बाद अमेरिका के 11 फाइटर जेट ने एक साथ साउथ चाइना सी के विवाद‍ित इलाके में उड़ान भरी। इस दौरान चीन केवल गीदड़ भभकी देता रह गया। अमेरिका की इस आक्रामक कार्यवाही से भड़के चीन के सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स ने इसे शक्ति का खुला प्रदर्शन करार दिया।
दक्षिण चीन सागर में एक साथ उड़े 11 फाइटर जेट
परमाणु बम ले जाने में सक्षम अमेरिका के B-52H बमवर्षक विमान के साथ अमेरिका के 10 अन्‍य फाइटर जेट और निगरानी विमानों ने रविवार को एक साथ दक्षिण चीन सागर में उड़ान भरी। ये सभी विमान अमेरिकी एयरक्राफ्ट कैरियर निमित्‍ज से उड़ान भरे थे। यूएसएस निमित्‍ज के साथ यूएसएस रोनाल्‍ड रीगन एयरक्राफ्ट कैरियर भी युद्धाभ्‍यास में हिस्‍सा ले रहा है।
अमेरिकी युद्धाभ्‍यास को चीन ने ताकत का प्रदर्शन बताया
चीन के सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स ने चीन के युद्धाभ्‍यास के बीच अमेरिकी B-52H बमवर्षक विमान और युद्धाभ्‍यास को एक संयोग नहीं बल्कि शक्ति का खुला प्रदर्शन करार दिया है। अखबार ने कहा कि अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन का परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम B-52H बमवर्षक विमान का गुआम में तैनात करना और युद्धाभ्‍यास करना चीन को अपनी ताकत दिखाना है।
अमेरिकी नौसेना ने ग्‍लोबल टाइम्‍स के लिए मजे
उधर, दक्षिणी चीन सागर में अमेरिकी एयरक्राफ्ट कैरियर्स की तैनाती से भड़के चीन की पिट्ठू मीडिया की धमकियों पर अमेरिकी नौसेना ने मजा लिया है। चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स की धमकी भरे ट्वीट को रिट्वीट करते हुए अमेरिकी नेवी ने कहा कि इसके बावजूद वे उस इलाके में तैनात हैं। रविवार को ही ग्लोबल टाइम्स ने चीन के मिसाइलों की तस्वीर ट्वीट करते हुए अमेरिका को धमकी दी थी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *