नन दुष्कर्म के आरोपी फ्रैंको मुल्लकल के खिलाफ Chargesheet दाखिल

जालंधर। केरल की नन के यौन शोषण मामले में जालंधर डायोसिस के पूर्व पादरी फ्रैंको मुल्लकल के खिलाफ मामले की जांच कर रही स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम ने Chargesheet दाखिल किया है। 80 पन्नों के आरोप पत्र के साथ ही जांच दल ने इस केस में 83 गवाहों के बयान दर्ज किए हैं, वहीं लैपटॉप, मोबाइल फोन और मेडिकल टेस्ट समेत कुल 30 सबूत इकट्‌ठा किए गए हैं। हालांकि मुलक्कल ने लैपटॉप सौंपने से इनकार कर दिया था, लेकिन बावजूद इसके उनके खिलाफ सबूत मिटाने के आरोप में कोई केस दर्ज नहीं किया गया है।

केरल नन दुष्कर्म मामले में आरोपी फ्रैंको मुल्लकल के खिलाफ केरल पुलिस के विशेष जांच दल ने Chargesheet दाखिल की है। इसी मामले में आज Chargesheet दाखिल की गई है।

बिशप मुलक्कल पर मिशनरीज ऑफ जीसस कांग्रेगेशन ऑफ जालंधर डियोसी की केरल की एक नन से बार-बार बलात्कार करने का आरोप है। मुल्लकल को 21 सितंबर 2018 को कोच्चि में गिरफ्तार किया गया था।

बता दें कि पिछले महीने मार्च में पूर्व बिशप फ्रैंको मुल्लकल के खिलाफ प्रदर्शन कर चुकीं पांच ननों ने कोट्टयम के पुलिस अधिक्षक (एसपी) से मुलाकात की थी। ननों ने उनसे कहा था कि ऐसी स्थिति पैदा न करें कि हमें दोबारा सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करना पड़े।

बीते साल सितंबर माह में जब कई ननों ने मुल्लकल पर यौन शोषण का आरोप लगाया था को इन सभी ननों ने उसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया था।

गौरतलब है कि गत 31 मार्च को बिशप फ्रैंको मुलक्कल के करीबी की कार से 9.6 करोड़ रुपये की अघोषित नकदी बरामद की गई। चुनाव आचार संहिता के बीच पंजाब के खन्ना शहर में जांच के दौरान तीन एसयूवी कारों से 9.6 करोड़ रुपये की अघोषित नकदी बरामद की गई है। शनिवार को पुलिस ने इसकी जानकारी दी। सबसे अहम यह कि जिन लोगों की कार से यह नकदी बरामद की गई है, उनमें एक पादरी भी है जो केरल नन रेप केस के आरोपी बताया जा रहा है।

इस संदर्भ में खन्ना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) ध्रुव दहिया ने बताया कि जिन लोगों की कारों से यह नकदी पकड़ी गई है उनमें से एक नाम फादर एंटनी है। एंटनी जालंधर जिले के प्रतापपुरा गांव में एक चर्च में पादरी है। एंटनी बिशप फ्रैंको मुलक्कल का करीबी है।

दरअसल जून 2018 में केरल की एक नन ने रोमन कैथोलिक के जालंधर डायोसिस के तत्कालीन पादरी फ्रेंको मुलक्कल पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। केरल पुलिस के पास दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक फ्रेंको ने पहले 2014 में हिमाचल प्रदेश के एक गेस्ट हाउस में उसके साथ रेप किया। इसके बाद करीब दो साल में उसका 14 बार यौन शोषण किया गया। इस केस की जांच-पड़ताल के लिए केरल पुलिस कई बार जालंधर आकर फ्रेंको से पूछताछ कर चुकी है, वहीं बीते दिनों केरल में एक और नन की संदिग्ध मौत के बाद यह मामला फिर से गर्माया। 19 सितंबर को जब केरल पुलिस ने फ्रेंको को जांच के लिए वहां बुलाया तो उन्होंने इससे पहले ही अपनी सभी जिम्मेदारियों का परित्याग कर दिया था। वहां जाने के बाद तीन दिन लगातार पूछताछ चली, वहीं कोर्ट से सारी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद पुलिस ने फ्रेंको को गिरफ्तार कर लिया।

इसके बाद कोर्ट ने 3 अक्तूबर को हाईकोर्ट ने मुलक्कल की याचिका खारिज कर दी थी। इसके बाद 15 अक्टूबर को फिर से इस मामले में केरल हाईकोर्ट में सुनवाई हुई तो कोर्ट ने कुछ शर्तों के साथ फ्रेंको की जमानत याचिका मंजूर कर ली। जस्टिस राजा विजय राघवन ने मुलक्कल की जमानत मंजूर करते हुए साथ ही निर्देश दिया है कि वह अपना पासपोर्ट अधिकारियों के सामने जमा करें और हर दो हफ्ते में एक बार शनिवार को जांच अधिकारी के सामने पेश हों। इसके अलावा वह कभी केरल में कभी दाखिल नहीं होंगे। कोर्ट के निर्देश के मुताबिक आरोप-पत्र दायर किए जाने तक मुलक्कल पर ये सभी शर्तें लागू रहनी थी।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »