कांशीराम का 14 वां परिनिर्वाण दिवस मनाया गया

मथुरा। बसपा संस्थापक कांशीराम ने अपने संघर्ष से वंचितों को फ़र्श से अर्श तक पहुंचाया, लेकिन ख़ुद के लिए आरंभ से अंत तक ‘शून्य’ को प्रणाम करते रहे। 1981 में कांशीराम ने दलित शोषित समाज संघर्ष समिति की शुरुआत की जिसे डी एस 4 के नाम से जाना जाता है और 1984 में बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) का गठन किया। आगे चलकर उन्होंने मायावती को उत्तर प्रदेश की पहली दलित महिला मुख्यमंत्री बनाया।  ऐसा देश के किसी भी सूबे में पहली बार हुआ था।

आज 9 अक्तूबर को जनपद में बामसेफ, डी एस 4, बसपा के संस्थापक बहुजन नायक माननीय कांशीराम जी का 14 वां परिनिर्वाण दिवस मनाया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बसपा आगरा मण्डल के सेक्टर प्रभारी मा. भारतेन्दु अरुण थे तथा अध्यक्षता जिलाध्यक्ष जयवीर सिंह ने की।

कार्यक्रम में गोवर्द्धन क्षेत्र के पूर्व विधायक राजकुमार रावत , आगरा मण्डल के मुख्य सेक्टर प्रभारी हेमेंद्र कुमार , बबलू गुर्जर , ओमप्रकाश बघेल , सुरेश बाबू , गोवर्धन सिंह , रामबाबू गौतम, योगेश द्विवेदी , आगरा मंडल के संयोजक जितेंद प्रजापति आदि उपस्थित थे।

कार्यक्रम का संचालन जिला महासचिव वीरेंद्र परिहार ने किया। इसमें योगेश द्विवेदी , ठाकुर रामेश्वर सिंह, फारुकी, मनीष प्रधान, जी. आर. सोनी, राजेश बघेल, विवेक सिंह जिला सचिव, राजा अली महानगर अध्यक्ष, जगदीश पाल, डॉ. दाता राम, महेन्द्रपाल निगम, प्रेम सिंह, महेश फालेन , मुख्तार गौतम, अनिल बघेल , जितेंद्र कर्दम आदि नेतागण मौजूद थे।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *