नियंत्रण रेखा पर फिर सीजफायर का उल्लंघन, मुंहतोड़ जवाब

जम्‍मू। पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में नियंत्रण रेखा के पास अग्रिम चौकियों और गांवों का निशाना बनाते हुए एक बार फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। शनिवार सुबह सीजफायर उल्लंघन की घटना का भारतीय सेना ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया।
सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने पुंछ के बालाकोट सेक्टर और राजौरी के नौशेरा में बिना किसी उकसावे के छोटे हथियारों से गोलीबारी की और मोर्टार के गोले दागे।
प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तान ने पहले शुक्रवार को रात 8 बजे से 10 बजे के बीच नौशेरा में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया और फिर रात करीब पौने 12 से देर रात 2 बजे के बीच बालाकोट में छोटे हथियारों से गोलीबारी की और गोले दागे।
भारतीय सेना की नॉर्दन कमांड के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह शुक्रवार को ही सुरक्षा परस्थितियों का जायजा लेने कश्मीर घाटी पहुंचे थे। लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) से लगे इलाकों में जाकर रणबीर सिंह ने सैनिकों, अधिकारियों और कुछ अन्य लोगों से मुलाकात की और उनसे वहां के हालात के बारे में जानकारी ली। इस दौरान उन्हें आतंक विरोधी गतिविधियों की भी जानकारी दी गई। सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि इलाके में लोगों की सुरक्षा और शांति के लिए आतंक विरोधी गतिविधियां जारी हैं। रणबीर सिंह के साथ चिनार कॉर्प्स के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल के जे एस ढिल्लों भी एलओसी से लगे आतंरिक इलाकों में गए। दोनों अधिकारियों ने विभिन्न यूनिट्स के सैनिकों से मुलाकात करके उनका हौसला बढ़ाया और उनसे वहां के हालात की जानकारी ली। इसके बाद शनिवार सुबह पाकिस्तानी सेना की तरफ से फिर फायरिंग हुई। उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी गोलीबारी में किसी भारतीय के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।
अधिकारियों के अनुसार इस साल अभी तक पाकिस्तान ने 2050 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है, जिसमें 21 भारतीय मारे गए हैं और कई अन्य घायल हुए हैं। भारत ने लगातार पाकिस्तान से कहा है कि वह अपने जवानों से 2003 संघर्ष विराम समझौते का पालन करने और नियंत्रण रेखा तथा अंतरराष्ट्रीय सीमा पर शांति बनाए रखने के लिए कहे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »