बहुत जल्‍द पहली एयर डिफेंस कमांड की स्थापना करेंगे CDS

नई दिल्‍ली। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत ने इस साल जून तक पहली एकीकृत त्रि-सेवा कमान स्थापित करने का लक्ष्य रखा है, जिसका प्रमुख भारतीय वायु सेना (आईएएफ) का एक अधिकारी होगा।
सरकारी सूत्रों ने एएनआई को बताया कि सैन्य मामलों के विभाग को दिए गए जनादेश के तहत बनाया जाने वाला पहला एकीकृत सैन्य गठन एक एयर डिफेंस कमांड होगा, जिसका नेतृत्व एक एयर मार्शल करेगा जिसमें सेना और वायु सेना के साथ वायु रक्षा संपत्ति भी शामिल होगी।
CDS ने सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे और वायु सेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया के साथ एकीकृत वायु रक्षा कमान की संरचना और संपत्ति को अंतिम रूप देने के लिए चर्चा शुरू कर दी है।
सैन्य मामलों के विभाग को थिएटर कमांड के साथ संयुक्त सैन्य कमांड बनाने के लिए जनादेश दिया गया है जो तीन सेनाओं को शामिल करने वाला एक बड़ा पुनर्गठन अभ्यास होगा। जनरल रावत थिएटर कमांड के अलावा संयुक्त प्रायद्वीप कमान और एक लॉजिस्टिक्स कमांड के निर्माण पर भी काम कर रहे हैं।
सूत्रों ने कहा कि थिएटर कमांड या अन्य एकीकृत कमांडों के नेतृत्व के लिए जनरल-रैंक पोस्ट का निर्माण नहीं होगा और इनकी अध्यक्षता तीनों सेवाओं के लेफ्टिनेंट जनरल-रैंक के अधिकारी करेंगे।
प्रत्येक सेना की अपनी व्यक्तिगत वायु रक्षा सेट-अप है। वायु रक्षा कमांड, वायु सेना और नौसेना की वायु रक्षा और परिसंपत्तियों को एकीकृत करेगा और साथ ही संयुक्त रूप से देश को वायु रक्षा कवर प्रदान करेगा। वायु सेना और थल सेना अपनी वायु रक्षा परिसंपत्तियों के एकीकरण और पाकिस्तान के साथ सीमावर्ती क्षेत्रों में फिर से तैनाती के लिए एक दूसरे के साथ बातचीत कर रहे है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *