सीबीआई ने पत्रकार उपेंद्र राय और एयर वन एविएशन के सीएसओ प्रसून राय के खिलाफ केस दर्ज किया

नई दिल्‍ली। फर्जी कागज़ात के आधार पर राष्ट्रीय महत्व की अतिसंवेदनशील जगहों, खासकर एयरपोर्ट के भीतर की जानकारी हासिल करने और वित्तीय लेनदेन में गडबड़ी के आरोप में सीबीआई ने वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय और एयर वन एविएशन के सीएसओ प्रसून राय के खिलाफ केस दर्ज किया.
उपेंद्र राय और प्रसून राय पर आरोप है कि उन्होंने गलत जानकारी देकर राष्ट्रीय महत्व के अतिसंवेदनशील जगहों जैसे एयरपोर्ट की जानकारियां हासिल कीं, उनके अंदर नो एंट्री ज़ोन में जाने का एक्सेस लिया. गलत वित्तीय ट्रांजेक्शन भी को अंजाम दिया.
सीबीआई ने खिलाफ आईपीसी की धारा 120बी (आराधिक षड्यंत्र) और 420 (धोखाधड़ी और बेईमानी) के तहत मामला दर्ज किया है. आरोप है कि साल 2017 में 1 लाख रूपये के उपर के ट्रांजैक्शन के जरिए उनके खाते में 79 करोड़ रुपये आए और इसी दौरान उनके खाते से 78.51 करोड़ रुपये निकाले गए.
आरोप है कि उपेंद्र राय ने गलत तरीकों से कमाए पैसों से कई महंगी गाड़ियां खरीदीं. एक फर्जी कंपनी से 15 करोड़ रुपये लेने का आरोप है. ये भी आरोप है कि इनकम टैक्स विभाग से फिक्सिंग कराने के लिए सहारा इंडिया से 6.5 करोड़ रुपये लिए. इसके अलावा उपेंद्र राय के खिलाफ कई दूसरे आरोप हैं.
अब तक सीबीआई ने उनकी गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की है. खबरें हैं कि उपेंद्र राय अभी सीबीआई की हिरासत में है.
सीबीआई अभी भी उनके खिलाफ सबूत जुटाने में जुटी है. एजेंसी दिल्ली, नोएडा और लखनऊ में 8 जगहों पर छापेमारी कर रही है. इस सिलसिले में उपेंद्र राय से जुड़े लोगों से भी पूछताछ हो रही है.

सीबीआई की तरफ से उपेंद्र राय की गिरफ्तारी को लेकर जारी किया गया स्टेटमेंट इस प्रकार है….

CBI has registered a case against Shri Upender Rai, Shri Praun Roy, CSO of M/s Air One Aviation Pvt Ltd, New Delhi, said firm and unlnown public servants and others on the allegations of giving false information for obtaining access to highly sensitive areas of national importance such as Airports in India and on allegations of dubious financial transactions etc. Searches are going on at around 8 places in Delhi, Noida, Lucknow and Mumbai. Examination of certain persons related to the case is going on. Details to follow.

ज्ञात हो कि पी गुरुज डाट काम नामक एक वेबसाइट पर उपेंद्र राय के खिलाफ लंबी चौड़ी खबरें प्रकाशित की गईं. इन खबरों में करोड़ों रुपये के लेन-देन के आरोपों के अलावा एयरपोर्ट से जुड़ा संवेदनशील पास रखने की भी बात कही गई. इन खबरों से नाराज उपेंद्र राय ने इस पोर्टल के अलावा प्रवर्तन अधिकारी राजेश्वर सिंह के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में मानहानि का केस दर्ज कराया था.

पूर्वी उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले के मूल निवासी उपेंद्र राय लंबे समय तक सहारा मीडिया के हेड रहे हैं. वे स्टार न्यूज से लेकर तहलका ग्रुप तक में वरिष्ठ पदों पर काम कर चुके हैं.

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »