केन्याई लड़की पर हमले का मामला: पुलिस ने कहा, लड़की के दावों में सच्चाई नहीं

Case of assault on Kenyan girl: police said, No truth of girl claims
केन्याई लड़की पर हमले का मामला: पुलिस ने कहा, लड़की के दावों में सच्चाई नहीं

नोएडा। ग्रेटर नोएडा में एक केन्याई लड़की पर कथित तौर पर हुए हमले के मामले पर पुलिस ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। पुलिस के मुताबिक, लड़की के दावों में सच्चाई नहीं है और उसका अपने दोस्तों के साथ ही झगड़ा हुआ था। नोएडा के एसएसपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि यह नस्लीय हमले का मामला नहीं है। बता दें कि बुधवार तड़के यहां ओमीक्रॉन-1 ए सेक्टर के नजदीक कैब सवार अफ्रीकी मूल की छात्रा के साथ मारपीट की खबर आने के बाद पुलिस मामले की जांच-पड़ताल में लग गई थी।
नोएडा के एसएसपी धर्मेंद्र सिंह ने कहा कि केन्या की छात्रा ने हमले की जो बात कही है, वह सच नजर नहीं आती। उन्होंने कहा कि कैब में जीपीएस लगा हुआ था और जांच के बाद पता चला कि दावे में कोई सच्चाई नहीं है। एसपी ने कहा कि इस पूरी घटना में शुरू से अंत तक ड्राइवर लड़की के साथ था।
उन्होंने कहा, ‘ड्राइवर से पूछताछ के बाद हमें नहीं लगता कि ऐसी कोई घटना घटी थी क्योंकि ड्राइवर के पास झूठ बोलने की कोई वजह नहीं है।’
इससे पहले, नोएडा में विदेशी स्टूडेंट्स पर हमले की निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर कुछ लोग गृह मंत्री से मिलने पहुंचे थे। जिले के दो विधायक भी सीएम योगी आदित्यानाथ से मिलने लखनऊ गए।
लड़की ने कैब में पी शराब?
कैब चालक का कहना है कि लड़की ने चलती कार में शराब पी थी। हाई कमीशन ऑफ केन्या के काउंसलर फ्रेडरिक ने भी युवती के मारपीट के आरोपों को गलत बताया।
उन्होंने कहा कि पारिवारिक कारणों से लड़की डिप्रेशन में थी। उसकी दोस्तों से ही मारपीट हुई लेकिन स्थानीय युवकों पर मारपीट का आरोप लगाया था।
क्या है मामला
केन्या की छात्रा मारिया बुरांडी ने बुधवार सुबह आरोप लगाया था कि वह कैब में ओमीक्रॉन-1ए के पास से गुजर रही थीं। वह पाई सेक्टर स्थित सोसायटी में रहती हैं और ओमीक्रॉन-1ए जा रही थीं। आरोप है कि इसी दौरान कुछ लोगों ने कार रोकी और उनपर हमला कर दिया। उन्होंने दावा किया कि उन्हें कार से खींचकर पीटा गया। स्टूडेंट का कहना है कि उन्हें बुरी तरह पंच मारे गए। हमलावर हिंदी में गालियां दे रहे थे। यह भी आरोप लगाया कि घटना के दौरान कैब चालक मौके अपनी गाड़ी लेकर भाग निकला। स्टूडेंट कासना कोतवाली पहुंची, जहां से पुलिस ने उसे ग्रेटर नोएडा के कैलाश अस्पताल में ऐडमिट कराया। इलाज के बाद युवती को छुट्टी दे दी गई। अज्ञात हमलावरों के खिलाफ ग्रेटर नोएडा कोतवाली में एफआईआर दर्ज की गई।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *