अमरनाथ में सेना ने आयोजित की Career Council Workshop

भारतीय सेना के द्वारा आयोजित की Career Council Workshop ‘‘अपनी सेना को पहचानें’’

मथुरा। जनपद की प्रमुख आवासीय शिक्षण संस्था अमर नाथ विद्या आश्रम सीनियर सेकेण्ड्री स्कूल में भारतीय सेना के सहयोग से आयोजित एक Career Council Workshop का आयोजन किया गया । जिसमें विद्यार्थियों को भारतीय सेना में कैरियर बनाने के लिये प्रोत्साहित किया गया तथा आर्मी के कार्यप्रणाली के सम्बन्ध में विस्तार पूर्वक समझाया ।

भारतीय सेना के अधिकारी प्रदीप कुमार ने विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुये बताया कि भारतीय सेना में सम्मिलित होना बहुत ही गौरव की बात है, जहां हमें देश के लिये सम्मान के साथ जीने और मरने का सौभाग्य मिलता है । उन्होंने विद्यार्थियों को विस्तार से बताया कि भारतीय सेना में भर्ती होने के लिये एन.डी.ए., एस.एस.बी. आदि परीक्षाओं में को पास करना होता है तथा देश में कहां-कहां पर ट्रैनिंग सेन्टर है । उन्होंने विद्यार्थियों को आर्मी के विभिन्न डिवीजन के सम्बन्ध के विषय में बताते हुये आर्मड कोप्र्स, रेजीमेन्ट आॅफ आर्टिलरी, इन्फ्रेन्टलरी के सम्बन्ध में समझाया ।

उन्होंने जब सेना के जांबाज जवानों के हैरतअंगेज युद्ध कौशल के सम्बन्ध जब बताया तो विद्यार्थियों ने खड़े होकर तालियां बजाईं । उन्होंने विद्यार्थियों को यह भी बताया कि सेना के जवान न केवल बाॅर्डर पर, युद्ध क्षेत्र में ही कौशल नहीं दिखाते हैं वे खेल के मैदान में भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पदक जीत कर देश को गौरवान्वित करते हैं । उन्होंने बताया कि भारतीय सेना में महिलाओं के लिये भी सुनहरे अवसर खुल गये हैं । सेना में अनेकों जांबाज महिला सैनिक देश का परचम लहरा रहीं हैं ।

सेना के ही अधिकारी गौरव कुमार ने विद्यार्थियों को एल.सी.डी. प्रोजेक्टर पर प्रेजन्टेशन के  माध्यम समझाया कि सेना के अधिकारी किस प्रकार विभिन्न प्रकार के युद्धों में सम्मिलित होते हैं तथा उन्हें किस प्रकार युद्ध कौशल में पारंगत किया जाता है । उन्होंने बताया कि सेना के जवानों को जहां बहुत सी दुर्गम परिस्थितियों से गुजरना होता है, जिसके लिये उन्हें विशेष रूप से प्रशिक्षित किया जाता है ।

उन्होंने बताया कि सेना के जवानों को जहां समाज में सम्मान मिलता है वहीं उन्हें अच्छी पगार, और विभिन्न प्रकार की सुविधायें भी मिलती हैं । सेना के जवानों को आर्मी के युद्ध के समय में सर्वोच्च पुरस्कार जैसे परमवीर चक्र, महावीर चक्र आदि से भी सम्मानित किया जाता है । शांतिकाल में अशोक चक्र, कीर्ति चक्र तथा शौर्य चक्र से विभूषित किया जाता है ।

सेना के अधिकारियों ने विद्यार्थियों को आर्मी में भर्ती के लिये प्रोत्साहित करवाने के लिये विद्यालय के प्रधानाचार्य डा. अरूण कुमार वाजपेयी जी के प्रति हृदय से आभार व्यक्त किया तथा विद्यालय के विद्यार्थियों के अनुशासन की भी प्रशंसा की । उन्होंने बताया कि भविष्य में भी विद्यार्थियों के लिये इसी प्रकार की वर्कशाॅप आयोजित की जायेंगी, जिसमें विद्यार्थियों को फिजीकल ट्रैनिंग भी दी जायेगी । वर्कशाॅप के अंत में विद्यार्थियों ने सेना के अधिकारियों से आर्मी में कैरियर सम्बन्धी प्रश्न कर अपनी जिज्ञासायें शांत कीं ।

अमर नाथ विद्या आश्रम के प्रधानाचार्य डा. अरूण कुमार वाजपेयी ने बताया कि सेना के अधिकारियों ने विद्यालय की अनुशासन को सुन कर ही कैरियर काउन्सिल कार्यक्रम के लिये विद्यालय का चयन किया है ।

उन्होंने बताया कि विद्यालय के अनेकों विद्यार्थी आज भारतीय सेना में उच्च पदों पर आसीन होकर विद्यालय तथा देश को गौरवान्वित कर रहे हैं । उन्होंने कैरियर काउन्सिल कार्यक्रम के लिये भारतीय सेना के प्रति आभार व्यक्त किया ।

Career Council Workshop में सेना के अधिकारियों को विद्यालय में पधारने पर शुभम, सुयश तथा रितम ने पटका तथा गैस्ट आॅफ आॅनर से स्वागत किया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »