आज NSA अजीत डोभाल से मिलने पहुंचे कैप्टन अमरिंदर सिंह

नई दिल्‍ली। पंजाब के साथ-साथ अब दिल्ली में भी सियासी हलचल तेज है। पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक दिन पहले गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की और आज वह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार NSA अजीत डोभाल से मिलने पहुंच गए। कल कैप्टन ने बताया था कि गृह मंत्री अमित शाह से किसानों के मुद्दे पर चर्चा हुई, पर अटकलें लगाई जा रही हैं कांग्रेस से नाराज सियासत का यह मंझा हुआ खिलाड़ी अपना दांव चल सकता है।
वह पिछले तीन दिनों से दिल्ली में जमे हुए हैं। आज वह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से मिलने उनके घर पहुंचे। अब तक यह पता नहीं चल सका है कि कैप्टन और डोभाल के बीच क्या चर्चा हुई। माना जा रहा है कि पंजाब से लगते पाकिस्तान बॉर्डर को लेकर चर्चा हो सकती है। कैप्टन पहले भी राष्ट्रीय सुरक्षा की बात करते रहे हैं।
कल सिंह के करीबी सूत्रों की ओर से बताया गया था कि पूर्व मुख्यमंत्री ने गृह मंत्री के साथ पंजाब की आंतरिक सुरक्षा की स्थिति पर भी चर्चा की है। ऐसे में डोभाल से मुलाकात को इससे जोड़कर देखा जा रहा है।
शाह से मिलकर किया ट्वीट
शाह से मुलाकात के बाद अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया, ‘केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिला। कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन को लेकर चर्चा की और उनसे आग्रह किया कि कानूनों को निरस्त करके, MSP की गारंटी देकर तथा पंजाब में फसल विविधिकरण को सहयोग देकर इस संकट का तत्काल समाधान किया जाए।’
वैसे, यह बैठक इस मायने में भी महत्वपूर्ण है कि मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद सिंह ने अपने पत्ते नहीं खोले थे, लेकिन दावा किया था कि उन्होंने राजनीति नहीं छोड़ी है और वह अंत तक लड़ेंगे। कांग्रेस के दिग्गज नेता ने अपने कट्टर विरोधी नवजोत सिंह सिद्धू पर भी तीखा हमला किया था, जिन्हें पिछले दिनों पार्टी की पंजाब इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया गया था।
कैप्टन के पास खुले हैं सारे विकल्प
सिद्धू ने मंगलवार को कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। अपने राजनीतिक भविष्य के संबंध में सिंह ने कहा था कि उनके सामने कई विकल्प हैं। शाह के साथ सिंह की मुलाकात को पंजाब की राजनीति में नए आयाम के तौर पर देखा जा रहा है जहां अगले साल विधानसभा चुनाव होना है। निकट भविष्य में अमरिंदर सिंह के भाजपा में शामिल होने की अटकलों के संदर्भ में भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि ऐसी संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।
…तब कैप्टन शामिल हो जाएंगे बीजेपी में
एक सूत्र ने कहा कि सबकुछ इस बात पर निर्भर करता है कि केंद्रीय कृषि कानूनों से जुड़े मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार झुकती है या नहीं। उन्होंने कहा कि अगर नरेंद्र मोदी सरकार किसानों के आंदोलन से जुड़े मुद्दे का समाधान करती है तो फिर भाजपा में शामिल होने या समर्थन करने के लिए अमरिंदर सिंह की राह आसान हो जाएगी।
कुछ खबरों में कहा गया है कि अमरिंदर सिंह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात कर सकते हैं, हालांकि इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। सूत्रों का कहना है कि अमरिंदर गुलाब नबी आजाद और कपिल सिब्बल समेत कांग्रेस के ‘ग्रुप 23’ के कुछ नेताओं से भी मिल सकते हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *