केपटाउन टेस्ट मैच: टीम इंडिया मुश्किल में फंसी

केपटाउन। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन टीम इंडिया मुश्किल में फंस गयी है. मेहमान टीम के सामने सस्‍ते में आउट होने का खतरा मंडरा रहा है. एक समय टीम इंडिया के 7 बल्लेबाज महज 92 रन पर आउट होकर पवेलियन लौट गये, लेकिन इस बीच हार्दिक पांड्या टीम के लिए उम्मीद की किरण बनकर आये.
टॉप बल्लेबाजों के असफल होने बाद हार्दिक पांड्या ने निडरता के साथ खेलते हुए धुंआधार बल्‍लेबाजी करते हुए महज 46 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया. इस समय पांड्या 78 रन पर और भुवी 22 रन बनाकर बल्‍लेबाजी कर रहे हैं. आठवें विकेट के लिए दोनों के बीच 88 रन की साझेदारी बन चुकी है.
इससे पहले दिन दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और उसकी पूरी टीम 286 रन पर आलआउट हो गयी. भुवनेश्वर कुमार की घातक गेंदबाजी के सामने दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम को नतमस्तक हो गयी थी. हालांकि भारत की शुरुआत भी खराब रही और पहले टेस्ट मैच के शुरुआती दिन ही तीन विकेट गंवाने से वह बैकफुट पर चला गया.
भुवनेश्वर (19 ओवर में 87 रन देकर चार विकेट) ने पहले बल्लेबाजी का फैसला करने वाले दक्षिण अफ्रीका का शीर्ष क्रम झकझोर कर पांचवें ओवर तक उसका स्कोर तीन विकेट पर 12 रन कर दिया. एबी डिविलियर्स (65) और कप्तान फाफ डुप्लेसिस (62) ने चौथे विकेट के लिए 114 रन जोड़कर बीच में विकेट गिरने का क्रम रोका लेकिन यह साझेदारी टूटते ही भारतीय गेंदबाज हावी हो गये और दक्षिण अफ्रीकी टीम 286 रन पर आउट हो गयी.
इसके बाद भारत का शीर्ष क्रम भी चरमरा गया और पहले दिन का खेल समाप्त होने तक वह तीन विकेट पर 28 रन बनाकर संघर्ष कर रहा है. भारत अब भी दक्षिण अफ्रीका से 258 रन पीछे है. उसका दारोमदार भरोसेमंद चेतेश्वर पुजारा (नाबाद पांच) पर टिका है. उनके साथ दूसरे छोर पर खडे रोहित शर्मा ने अभी खाता नहीं खोला है जिन्हें अच्छी फार्म को देखते हुए अंजिक्य रहाणे की जगह टीम में रखा गया है. चार विशेषज्ञ गेंदबाजों और एक आलराउंडर के साथ उतरी भारतीय टीम ने दोनों सलामी बल्लेबाजों मुरली विजय (एक) और शिखर धवन (16) के अलावा कप्तान विराट कोहली (पांच) के कीमती विकेट गंवाये हैं. इन तीनों ने खराब शाट खेलकर अपने विकेट इनाम में दिये.
-एजेंसी