Calcium की कमी से हो सकते हैं कई गंभीर रोग

Calcium एक ऐसा पोषक तत्व है जो हमारे शरीर की हड्डियों के लिए मुख्य रूप से आवश्यक होता है लेकिन इसकी कमी से कई अन्य रोग भी हो सकते हैं।
Calcium का सेवन करने से हमारे दांत और हड्डियां मजबूत होती हैं। हालांकि प्राथमिक रूप से देखा जाए तो हड्डियों को मजबूत करने के लिए ही Calcium का सेवन बहुत जरूरी होता है। Calcium की जब शरीर में कमी हो जाती है तो यह हड्डियों को कमजोर बना देता है और इसका दुष्प्रभाव दातों पर भी पड़ता है लेकिन Calcium की कमी अन्य कई सारे दुष्प्रभाव भी आपके शरीर पर छोड़ती है जिसके बारे में आपको यहां पर पूरी जानकारी दी जाएगी। आपको यह बताया जाएगा कि कैल्शियम की कमी होने के कारण आपको कौन-कौन सी बीमारियां या स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।
​ऑस्टियोपोरोसिस
हड्डियों से जुड़ी हुई एक खास तरह की बीमारी होती है। यह महिला और पुरुष को एक समान रूप से प्रभावित करती है। जिन लोगों के द्वारा कैल्शियम पोषक तत्व की पूर्ति शरीर में ठीक तरह से नहीं होती है, उन्हें एक लंबे समय के बाद यह समस्या हो जाती है। इस मेडिकल कंडीशन में मानव शरीर की हड्डियां बहुत पतली और कमजोर हो जाती हैं और वह आंतरिक रूप से एक दूसरे से जुड़ी हुई नहीं रहती हैं, जिस कारण से हड्डियों के टूटने का खतरा बना रहता है।
मेनोपॉज के जोखिम को बढ़ा सकता है
यह एक ऐसी मेडिकल कंडीशन होती है जिसमें महिलाओं को मासिक धर्म आना बंद हो जाता है। इस दौरान महिलाओं के शरीर की हड्डियां कमजोर होना शुरू हो जाती हैं और उन्हें पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम की जरूरत पड़ती है इसलिए ऐसी मेडिकल कंडीशन से जूझ रही महिलाओं में जब यह स्थिति उत्पन्न हो तो उन्हें अपने खाने-पीने पर विशेष ध्यान देना चाहिए। ऐसी महिलाएं खाने में ऐसे खाद्य पदार्थ को शामिल कर सकती हैं जो कैल्शियम से भरपूर हों ताकि उनके शरीर की हड्डियां कमजोर ना होने पाएं।
कोलन कैंसर का खतरा बढ़ जाता है
रिसर्च के अनुसार इस बारे में दावा किया जा चुका है कि यदि व्यक्ति के शरीर में पर्याप्त रूप से कैल्शियम की पूर्ति ना हो तो उसमें कोलन कैंसर का खतरा भी बढ़ जाता है। एक रिसर्च के अनुसार यह देखा गया कि कैल्शियम का भरपूर सेवन करने वाले लोगों में एडिनोमा नाम के ट्यूमर का खतरा कई हद तक कम हो जाता है जो कोलन से संबंधित होता है। यही ट्यूमर कैल्शियम की कमी के कारण बढ़ने के बाद कोलन कैंसर के खतरे को जन्म दे सकता है इसलिए कैल्शियम स्रोत वाले खाद्य पदार्थों का पर्याप्त रूप से सेवन करें।
हृदय रोग
आप अपने भोजन में यदि कैल्शियम पोषक तत्व को ठीक तरह से शामिल नहीं कर रहे हैं तो इससे हृदय रोगों के जोखिम का खतरा कई गुना तक बढ़ जाता है। नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ पर प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार इस बारे में जानकारी दी गई है। रिसर्च की मानें तो पर्याप्त रूप से कैल्शियम का सेवन न करने के कारण हृदय रोगों का खतरा कई गुना बढ़ जाता है इसलिए शरीर में कैल्शियम की कमी बिल्कुल भी ना होने दें।
​ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है
कैल्शियम की कमी होने के कारण आपको ब्लड प्रेशर (हाइपरटेंशन) से जुड़ी हुई कई प्रकार की समस्याओं का भी सामना करना पड़ सकता है। इतना ही नहीं, इसका असर आपके हृदय पर भी पड़ेगा। कई अध्ययन में इस बात की पुष्टि की जा चुकी है कि कैल्शियम का सेवन अगर भरपूर मात्रा में किया जाए तो यह ब्लड प्रेशर को कम करने का कार्य करता है और आप हाइपरटेंशन की चपेट में आने से बचे रहते हैं।
इन खाद्य पदार्थों से होगी पूर्ति
कैल्शियम की पूर्ति करने के लिए आप कई प्रकार के खाद्य पदार्थों को अलग-अलग दिन के हिसाब से अपनी डायट में शामिल कर सकते हैं। में मुख्य रूप से पनीर, दही, दूध, हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे कि पालक और केला। इसके अलावा ऑरेंज जूस, सोयाबीन और कॉर्न फ्लेक्स में भी आपको पर्याप्त रूप से कैल्शियम की पूर्ति हो सकती है। इन खाद्य पदार्थों को आप अपने घर के आस-पास मौजूद दुकानों से भी खरीद सकते हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *