बसपा सुप्रीमो मायावती बोलीं: मोदी अपनी चिंता करें, मेरी नहीं

लखनऊ। यूपी की राजनीति इन दिनों दिग्गज राजनेताओं के बयानों से गरम होती जा रही है। मायावती के साथ ‘बड़ा खेल’ खेले जाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दावे पर बीएसपी चीफ ने पलटवार किया है। माया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा है कि मोदी अपनी चिंता करें, मेरी नहीं। रायबरेली और अमेठी में प्रत्याशी ना उतारने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हमारा वोटर साइलेंट होता है और वह नेता का इशारा समझकर वोट करता है। रायबरेली और अमेठी में उनका कोर वोटर कांग्रेस के उम्मीदवारों को ही वोट करेगा, इसमें कोई दो राय नहीं है।
बता दें कि लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए प्रतापगढ़ पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को एसपी-बीएसपी गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा था कि मायावती के साथ बहुत बड़ा खेल खेला जा रहा है। गठबंधन खतरे में है। अब मायावती ने कहा कि बीजेपी महागठबंधन को तोड़ना चाहती है लेकिन हम एक हैं। महागठबंधन में कोई मनमुटाव नहीं है। बीजेपी लगातार फूट डालो राज करो की राजनीति कर रही है। 23 मई के रिजल्ट के बाद सरकार बदलने जा रही है। अगली सरकार और उसके पीएम की चिंता मोदी सरकार ऐंड कंपनी न करे तो ही बेहतर होगा।
गठबंधन में दरार डालने की कोशिश कर रहे मोदी
पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए मायावती ने कहा कि मोदी गठबंधन के कारण मुसीबत में हैं। हमारा गठबंधन भविष्य में भी जारी रहेगा। मोदी मोदी गठबंधन में दरार पैदा करने का प्रयास कर रहे हैं। बीएसपी चीफ ने कहा कि इस महीने 23 मई को सरकार गई और निरंकुश सरकार का अंत होगा। घुट-घुटकर जीने वाली देश की जनता अब खुली हवा में सांस लेगी। जनविरोधी सरकार को जनता उखाड़ फेंकेगी।
…तो इसलिए अमेठी और रायबरेली से नहीं खड़ा किया प्रत्याशी
कांग्रेस के साथ चुनाव लड़ने पर मायावती ने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं। महागठबंधन ने कांग्रेस से कोई समझौता नहीं किया है। हमने कांग्रेस के लिए इसलिए सीट छोड़ी ताकि बीजेपी को कमजोर किया जा सके। कांग्रेस के दोनों सर्वोच्‍च नेता चुनाव जीत जाएं और वहीं उलझकर न रह जाएं।
कांग्रेस को ही जाएगा गठबंधन का वोट
मायावती ने कहा कि हमारा वोटर साइलेंट होता है और वह नेता का इशारा समझकर वोट करता है। रायबरेली और अमेठी में उनका कोर वोटर कांग्रेस के उम्मीदवारों को ही वोट करेगा, इसमें कोई दो राय नहीं है।
पीएम ने गठबंधन पर बोला था हमला
आपको बता दें कि पीएम मोदी ने शनिवार को प्रतापगढ़ में कहा था कि मायावती के साथ बहुत बड़ा खेल खेला जा रहा है। उन्होंने कहा था कि बीजेपी को हराने के लिए दो धुर विरोधी दल गले मिले। इनकी दोस्ती में तो अब दम नहीं दिख रहा है। यहां पर समाजवादी पार्टी ने बहन जी को ऐसा धोखा दिया है, जो उन्हें समझ में नहीं आ रहा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »