ब्रह्मपुत्र नदी में नाव पलटी: 32 लोग लापता, एक शव बरामद

गुवाहाटी। पूर्वोत्तर भारत की सबसे बड़ी नदी ब्रह्मपुत्र में बुधवार को एक बड़ा हादसा हुआ। असम के उत्तरी गुवाहाटी में एक नाव नदी में पलट गई। जानकारी के मुताबिक इस नाव में 45 लोग सवार थे, इसमें से 12 लोग तैरकर बच गए। अभी तक एक का शव बरामद किया जा चुका है। घटना के बाद पुलिस और राज्य आपदा प्रबंधन की टीमें घटनास्थल पर पहुंच गई हैं। राहत और बचाव कार्य तेजी से किया जा रहा है।
बताया गया कि लगभग 45 लोगों और आठ मोटर साइकल लेकर जा रही एक मोटरबोट ब्रह्मपुत्र में डूब गई, इसमें से 12 यात्री तैरकर सुरक्षित बच गए। बाकी लोगों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। राज्य आपदा प्रबंधन की ओर से 25 लोगों की टीम भेजी गई है।
मोटर बोट का इंजन बंद हो जाने से हुआ हादसा
दो घंटे की मशक्क्त के बाद एसडीआरएफ ने एक लड़की का शव बरामद किया है। फिलहाल सर्च अभियान जारी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस नाव में बैठकर लोग गुवाहाटी से नॉर्थ गुवाहाटी जा रहे थे। बताया गया कि नाव के इंजन ने अचानक काम करना बंद कर दिया और किनारे से 200 मीटर दूरी पर ही यह नाव डूब गई है।
असम इनलैंड वाटर ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंच के एक अधिकारी के मुताबिक सिर्फ 22 टिकट बेचे गए थे जबकि लोग ज्यादा सवार थे। बता दें कि असम में इस विभाग से लाइसेंस लेकर प्राइवेट कंपनियों द्वारा नाव चलाई जाती है, जिसकी मदद से हजारों यात्री रोज नदी पार करते हैं।
असम में भारी बाढ़ से कई जिले प्रभावित
गौरतलब है कि असम में एक बार फिर से बाढ़ आने से चार जिले जलमग्न हो गए हैं। इस बाढ़ से लगभग 12000 लोग प्रभावित हुए हैं। ब्रह्मपुत्र और उसकी सहायक नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) की एक आधिकारिक रिपोर्ट में रविवार को बताया गया कि धेमाजी, विश्वनाथ, गोलाघाट और शिवसागर जिलों में कुल 676 हेक्टेयर कृषि भूमि डूब गई है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »