बीएमसी ने बॉलीवुड के शहंशाह Amitabh से मांगी 15 फीट जमीन

सड़क चौड़ीकरण के लिए Amitabh Bachchan के जुहू के रोड नं-3 पर बना ‘प्रतीक्षा’ से लगी ज़मीन मांगी

मुंबई। मुंबई का जुहू इलाके में बढ़ रही भीड़ को देखकर सड़क चौड़ीकरण के लिए फिल्म इंडस्ट्री के शहंशाह Amitabh Bachchan से भी बीएमसी ने 15 फीट जमीन सड़क के चौड़ीकरण के लिए मांग की है। हांलाकि इस इलाके में सड़क के चौड़ीकरण के लिए जुहू स्कीम से लोग सहमत हैं लेकिन सड़क चौडीकरण करके इसका व्यवसायिक इस्तेमाल का विरोध कर रहे हैं। इस इलाके में और भीड़भाड़ की आशंका से इलाके के लोग इससे सहमत नहीं हैं।

जुहू के रोड नं-3 पर बना ‘प्रतीक्षा’
फिल्म जगत के शहंशाह ने जहां से अपने वैवाहिक जीवन की शुरुआत की और साल 1975 में मुंबई में रहने का पहला ठिकाना बनाया, वह है 1065 स्कावयर मीटर में जुहू के रोड नं-3 पर बना ‘प्रतीक्षा’। मुंबई में जब भी कोई फिल्म और उससे जुड़े लोगों को पसंद करने वाला आता है, वह बगैर अमिताभ बच्चन के घर को एक नजर देखे बगैर नहीं लौटता। वहीं अमिताभ बच्चन का दूसरा घर रोड नं-10 पर ‘जलसा’ के नाम से है, जहां वह अपने पूरे परिवार के साथ फिलहाल रह रहे हैं। इस इलाके में ट्रैफिक को देखते हुए सड़क के दोनों तरफ तीन–तीन मीटर दीवार को पीछे करने के लिए मुंबई महानगर पालिका के सिटी डेवलपमेंट प्लान 1991 के मुताबिक मांग की है। हालांकि इससे कई जुहू इलाके के रहने वाले लोग सहमत हैं, लेकिन इलाके में अनावश्यक भीड़ होने से डर भी रहे हैं।

रोड के विकास के लिए प्लान
इसी इलाके के टाउन प्लानर नीतिन किलावला के मुताबिक, बीएमसी का मकसद अगर इस इलाके में होने वाले ट्रॉफिक को दूर करने का तो इससे सभी सहमत हैं. जिन लोगों ने अपने पुराने मकान को डेवलप किया है, उन्होंने 15 फीट की जगह छोड दी है. डीपी प्लान में भी 3 मीटर जगह को दिखाया गया, जो रोड के विकास के लिए रखा गया है, लेकिन ये भी पता चला है कि इस इलाके में हॉकर्स जोन भी बीएमसी बनाना चाहती है, जो कि अनावश्यक भीड़ को आमंत्रित करेगा. इससे यहां रहने वाले सहित इलाके में सफर करने वालों के लिए काफी दिक्कत भी होगी.

किसी भी अधिकारी ने नहीं दी सफाई
हांलाकि इस बाबत महानगरपालिका के किसी भी अधिकारी ने सफाई नहीं दी. महज डेवलपमेट प्लान का ही हवाला देकर मामले से कन्नी काटते रहे. हांलाकि सालों साल का इतिहास रहा ‘प्रतिक्षा’ और ‘जलासा’ के बाहर आज भी लोग अमिताभ बच्चन के एक झलक पाने के लिए हजारों की भीड़ में घंटो इंतजार करते हैं. शायद बीएमसी के इस नए प्लान में इलाके को हॉकर जोन में बदलने से फिल्म कलाकारों के समर्थकों को भी निकट भविष्य में निराशा हो.
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »