कंगना के खिलाफ अदालती कार्यवाही पर BMC ने अब तक खर्च कर दिए 82 लाख

मुंबई। मायानगरी मुंबई की तुलना पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) से करने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ BMC ने अब तक अदालत की कार्यवाही में तकरीबन 82,50,000 रुपये खर्च किए हैं। यह जानकारी आरटीआई के माध्यम से सामने आई है।
BMC के एच वेस्ट वार्ड के अधिकारियों ने बांद्रा स्थित पाली हिल में कंगना रनौत के कार्यालय में हुए अवैध निर्माण कार्य पर कार्यवाही की थी। इस मामले में अभिनेत्री ने बॉम्बे हाई कोर्ट में गुहार लगाई थी।
बीएमसी का यह पक्ष
इस मामले में बीएमसी प्रशासन ने बॉम्बे हाई कोर्ट में अपना पक्ष रखने के लिए अब तक 82 लाख रुपए खर्च कर दिए हैं। कंगना रनौत ने बांद्रा के पाली हिल स्थित अपने घर में मणिकर्णिका फिल्म के आफिस की शुरुआत की थी। आरोप है कि इस कार्यालय में कंगना ने अवैध रूप से निर्माण कार्य करवाया था।
बंगला तोड़ने पर कंगना ने बाबर कहा, राउत ने याद दिलाई बाबरी
इसी दौरान कंगना रनौत ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से की थी, जिसका मुंबई में जबरदस्त विरोध हुआ था। बीएमसी प्रशासन ने बीएमसी ऐक्ट की धारा 354 के तहत कंगना को नोटिस दिया था। कंगना की तरफ से संतोषजनक जवाब न मिलने पर बीएमसी ने कार्यालय में किए गए अवैध निर्माण को तोड़ दिया था।
अदालत में पहुंचा मामला
बीएमसी की कार्यवाही पर कंगना के वकील ने इस मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट से मदद मांगी थी। अदालत के आदेश के बाद बीएमसी ने अपनी कार्यवाही को रोक दिया था।
आरटीआई कार्यकर्ता शरद यादव ने बीएमसी में आवेदन कर यह जानकारी मांगी थी कि इस मामले में बीएमसी ने किस वकील को नियुक्त किया है और इस पूरी प्रक्रिया में अब तक कितना खर्च हुआ है। आरटीआई का जवाब देते हुए बीएमसी ने बताया कि अब तक कुल 82 लाख 50 हजार रुपये बतौर फीस दिए गए हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *