ब्लोटिंग की समस्‍या दूर कर सकती है ये हर्बल चाय

कई बार पेट में गैस या ऐसिडिटी की वजह से ब्लोटिंग यानी पेट फूलने की भी समस्या हो जाती है। इस वजह से असहजता महसूस होने लगती है और कई बार तो तकलीफ काफी बढ़ जाती है। ऐसा महसूस होता है मानो आपका पेट स्ट्रेच हो रहा हो और किसी भी वक्त फट जाएगा। आप भी कभी न कभी इस समस्या से दो-चार जरूर हुए होंगे। जब भी इस तरह की दिक्कत आती है तो हम में ज्यादातर लोग ओटीसी मेडिसिन यानी बिना डॉक्टरी सलाह के केमिस्ट से पूछकर ली गई दवाइयों का सेवन कर लेते हैं। लेकिन इससे कितने साइड इफेक्ट्स होते हैं इस ओर शायद आपका ध्यान नहीं गया होगा। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं 4 तरह की हर्बल चाय के बारे में जिसे पीने से दूर हो जाएगी पेट फूलने की समस्या…
टर्मरिक टी यानी हल्दी वाली चाय
जब भी बात पाचन तंत्र से जुड़ी समस्याओं की आती है तो उसमें राहत पहुंचाने के मामले में हल्दी का नाम सबसे ऊपर आता है। एंटीइन्फ्लेमेट्री और एंटीऑक्सिडेंट प्रॉपर्टी की वजह से हल्दी का इस्तेमाल कई बीमारियों को दूर करने में किया जाता है। हल्दी के साथ-साथ चाय में चुटकी भर काली मिर्च भी डाल दें। इस चाय के सेवन से पेट में गैस, पेट फूलने की दिक्कत दूर होगी और पाचन तंत्र सही हो जाएगा।
सौंफ वाली चाय
पेट और पाचन से जुड़ी दिक्कतों जैसे- पेट में दर्द, पेट फूलना और कब्ज को दूर करने के लिए लंबे समय से सौंफ का इस्तेमाल होता आ रहा है। सौंफ में ऐसा कंपाउंड पाया जाता है जो गैस्ट्रोइन्टेंस्टाइनल ट्रैक्ट के पैसेज को रिलैक्स करता है जिससे पेट में भरी गैस आसानी से बाहर निकल जाती है। आप चाहें तो सौंफ का पानी या सौंफ की चाय किसी भी चीज का सेवन कर सकते हैं।
पुदीने की चाय
मिंट यानी पुदीने का फ्लेवर बेहद कूल और रिफ्रेशिंग होता है जो पाचन तंत्र से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में आपकी मदद करता है। पुदीने की पत्तियों में एंटीस्पासमोडिक प्रॉपर्टी होती है जो मसल क्रैम्प्स और स्पास्म में राहत दिलाने में मदद करती है जिससे पेट में दर्द दूर होता है और आराम मिलता है। पुदीने की पत्तियों से बनी चाय आपके लिए मददगार हो सकती है।
अदरक की चाय
अदरक भी पेट से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने के लिए सबसे बेस्ट उपाय माना जाता है। बहुत से लोग पेट फूलने की दिक्कत या लूज मोशन की समस्या में अदरक के सप्लिमेंट्स का इस्तेमाल करते हैं। अदरक में जिंजरॉल नाम का बायोऐक्टिव कम्पाउंड पाया जाता है जो ब्लोटिंग यानी पेट फूलने की दिक्कत को कम करने में मदद करता है। हालांकि अदरक की चाय बनाने के लिए ताजे अदरक का ही इस्तेमाल करें क्योंकि इसमें एंटीऑक्सिडेंट अधिक होता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »