अमेरिका के मस्जिद में नमाज के समय विस्फोट

ब्लूमिंग्टन। अमेरिका के मिनेसोटा राज्य में एक मस्जिद में उस समय अफरा-तफरी मच गई जब मस्जिद में एक विस्फोट हो गया।

जब धमाका हुआ तब कई लोग नमाज के लिए मस्जिद में जुटे थे। ‘न्यूयार्क टाइम्स’ की रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार सुबह ब्लूमिंग्टन की दार अल फारूक मस्जिद में हुए विस्फोट में कोई हताहत नहीं हुआ है।

लेकिन, इमारत के आगे के हिस्से को नुकसान पहुंचा है। तस्वीरों में एक टूटी खिड़की परदे और कुछ अन्य चीजें झुलसी नजर आ रही हैं।

‘सीएनएन’ के अनुसार, फेडरल ब्यूरो ऑफ इनवेस्टिगेशन (एफबीआई) इस मामले की जांच कर रहा है और उसने ट्वीट कर बताया कि घर में बने विस्फोटक उपकरण से यह विस्फोट किया गया।

मिनेसोटा की काउंसिल ऑन अमेरिकन इस्लामिक रिलेशंस (सीएआईआर) ने इस मामले के खुलासे के लिए 10,000 डॉलर की पेशकश की है।

मिनेसोटा में सीएआईआर के नागरिक अधिकार विभाग के निदेशक आमिर मलिक ने कहा, ‘अगर इस घटना के पीछे पूर्वाग्रह का मकसद सिद्ध हो जाता है, तो यह हमला हाल के महीनों में राष्ट्रव्यापी स्तर पर इस्लामिक संस्थानों को लक्षित करने वाली घृणित अपराधों की लंबी सूची में एक और घटना होगी।’

एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि यह विस्फोट सुबह की नमाज के समय हुआ। उस दौरान मस्जिद में 15 से 20 लोग मौजूद थे। प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि लोग मस्जिद से बाहर भागते दिखे और एक कार तेजी से जाती दिखी।

मिनेसोटा की मुस्लिम अमेरिकन सोसाइटी के प्रवक्ता ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि किसी ने खिड़की के रास्ते मस्जिद के इमाम के दफ्तर में कुछ फेंका था।
-एजेंसी