बीजेपी के प्रतिनिधि मंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात की

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की रैली रद्द होने के बाद बीजेपी के प्रतिनिधि मंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात की। इस प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व बीजेपी नेता और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण कर रही थीं। इसके अलावा मुख्तार अब्बास नकवी, भूपेंद्र यादव, कैलाश विजयवर्गीय, मुकुल राय, एसएस आहलूवालिया और अनिल बलूनी भी मौजूद थे। बीजेपी ने चुनाव आयोग के सामने ममता सरकार पर पार्टी की गतिविधियों में इरादतन इजाजत न देने का आरोप लगाया।
चुनाव आयोग से मुलाकात के बाद बीजेपी नेता नकवी ने कहा, ‘जो घटनाएं हो रही हैं, वे पश्चिम बंगाल सरकार के नेतृत्व में कराई जा रही हैं। सुनियोजित ढंग से बीजेपी के कार्यक्रमों को रोका जा रहा है। बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमले हो रहे हैं। इससे चुनाव का माहौल प्रभावित किया जा रहा है। भयमुक्त माहौल में चुनाव हों इसके लिए चुनाव आयोग से हमने मुलाकात की।’ नकवी ने कहा कि कई सीनियर अधिकारी राज्य में टीएमसी कार्यकर्ता की तरह काम कर रहे हैं। ऐसे में भययुक्त माहौल में निष्पक्ष चुनाव होना मुश्किल है।
वहीं पार्टी नेता निर्मला सीतारमण ने कहा, ‘चुनाव आयोग ने हमारी बात ध्यान से सुनी। आचार संहिता लागू नहीं हुई है, ऐसे में भविष्य में भयमुक्त माहौल में चुनाव हों, ऐसी हमारी मांग थी। टीएमसी के कृत्यों से साफ है कि वह लोकतंत्र में भरोसा नहीं रखती है। जिन कार्यक्रमों के लिए 4-5 दिन पहले इजाजत मांगी गई है, उनमें भी देरी की जा रही है। इसी कारण यूपी के सीएम का कार्यक्रम भी नहीं हो पाया। अधिकारियों ने दबी जुबान में बताया कि उन्हें ऊपर से आदेश दिए गए हैं। टीएमसी बीजेपी के बढ़ने से घबराई हुई है। मुझे डर है कि उन्होंने बंगाल में ऐसा माहौल बना दिया है कि हमें चुनाव आयोग से इस बारे में बात करनी पड़ी।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »