Karnataka bypolls में BJP की प्रचंड जीत, 15 में से 12 सीटें जीतीं

बेंगलुरु। Karnataka bypolls के नतीजे आ गए हैं, 15 सीटों में से 12 पर बीजेपी प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है। विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस के खाते में दो सीटें गई, जबकि जेडीएस अपना खाता नहीं खोल पाई। एक सीट पर निर्दलीय प्रत्याशी ने जीत दर्ज की। बीजेपी के शानदार प्रदर्शन की बदौलत येदियुरप्पा सरकार ने बहुमत के आंकड़े को पार कर लिया है। अब बीजेपी के पास विधासनभा में 117 सीटें हो गई हैं, जो कि बहुमत के आकड़े से 5 अधिक है। इस जीत पर मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि मैं जीते हुए 12 प्रत्याशियों में 11 को कैबिनेट मंत्री बनाऊंगा।

BJP ने बहुमत के आंकड़े को किया पार Karnataka bypoll में बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन किया। 15 से 12 सीटों पर बीजेपी प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की। इस जीत के साथ ही विधानसभा में बीजेपी बहुमत के आंकड़े को पार कर गई है। 222 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी के पास 117 विधायक हैं। कांग्रेस के पास 68 और जेडीएस 34 सीट हैं।

बीजेपी ने मनाया जश्नकर्नाटक उपचुनाव में बीजेपी की कामयाबी के बाद बीजेपी के खेमे में जश्न का माहौल है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अपने बेटे बीवाई विजयेंद्र के साथ जश्न मनाया। दोनों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाई. बीजेपी दफ्तर के बाहर कार्यकर्ता भी जश्न मना रहे हैं।

मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि जीतने वाले 12 प्रत्याशियों में से 11 को कैबिनेट मंत्री बनाया जाएगा। मैंने रानीबेन्नूर से जीते बीजेपी प्रत्याशी से वादा नहीं किया था। 11 मंत्री बनाने में कोई समस्या नहीं है। मैं अगले 3-4 दिनों में दिल्ली जाऊंगा और अंतिम रूप दूंगा।

कांग्रेस ने स्वीकारी हारकांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि हमें इन 15 विधानसभा क्षेत्रों के मतदाताओं के जनादेश से सहमत होना होगा। लोगों ने दलबदलुओं को स्वीकार कर लिया है। हमने हार स्वीकार कर ली है, मुझे नहीं लगता कि हमें निराश होना पड़ेगा।

क्यों आई उपचुनाव की नौबत
कांग्रेस और जेडीएस के 17 बागी विधायकों को अयोग्य घोषित किए जाने के बाद 15 सीटों पर उपचुनाव कराया गया। हाईकोर्ट में चल रहे मुकदमे की वजह से दो सीटों पर उपचुनाव नहीं कराया गया है। इन 15 सीटों में से 12 पर कांग्रेस और तीन जेडीएस के पास थीं। 224 सदस्यों वाली विधानसभा में 17 विधायकों के अयोग्य घोषित होने के बाद यह संख्या 207 पर आ गई थी और 29 जुलाई को बीएस येदियुरप्पा ने विश्वास मत हासिल कर लिया।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *