चंडीगढ़ रेप मामले में बयान देकर फंसी भाजपा सांसद किरण खेर

चंडीगढ़। चंडीगढ़ रेप मामले में बीजेपी सांसद और फिल्म अभिनेत्री किरण खेर ने विवादित बयान दिया है। किरण ने पीड़िता को नसीहत देते हुए कहा कि उसे ऑटोरिक्शा में बैठना ही नहीं चाहिए था, जब उसने देखा कि उसमें तीन आदमी पहले ही बैठे हैं। खेर के इस बयान की अब चारों तरफ आलोचना हो रही है।
उधर, खेर ने अब इस पर सफाई देते हुए कहा कि उनके बयान पर राजनीति की जा रही है। मैंने सिर्फ इतना कहा था कि जमाना बहुत खराब है, लड़कियों को एहतियात बरतनी चाहिए।
बता दें कि मोहाली में पीजी में रहने वाली 22 साल की लड़की के साथ 17 नवम्बर की रात ऑटो ड्राइवर और उसके दो अन्य साथियों ने गैंगरेप किया था। इस मामले में तीनों आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।
बुधवार को इस मामले पर बीजेपी सांसद किरण खेर ने कहा, ‘मैं सारी बच्चियों को कहना चाहती हूं कि बेटा अगर पहले से ही ऑटो में तीन आदमी बैठे हुए हैं तो आपको नहीं बैठना चाहिए। मैं लड़कियों की सुरक्षा के लिए यह कह रही हूं। जब हम भी कहीं बाहर जाते थे और साथ में जो भी अभिभावक छोड़ने आते थे, हम उन्हें ऑटो या टैक्सी का नंबर लिखा देते थे। मुझे लगता है कि आज के जमाने में हमें इसके लिए सतर्क होना पड़ेगा।’
उधर, किरण खेर के इस बयान ने विपक्ष को भी हमलावर होने का मौका दे दिया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पवन कुमार बंसल ने किरण के बयान की आलोचना करते हुए कहा कि मैं आश्चर्यचकित हूं कि इस मामले में इस तरह का बयान वह कैसे दे सकती हैं। इस बयान से लगता है कि वह गंभीर मामले को हल्के में ले रही हैं। उन्हें इस बारे में बात करनी चाहिए थी कि चंड़ीगढ़ को लड़कियों के लिए और सुरक्षित बनाने के लिए वह क्या पहल कर रही हैं।
इस बयान के बाद उठे विवाद पर प्रतिक्रिया देते हुए किरण खेर ने कहा, ‘मैंने तो सिर्फ ये कहा था कि जमाना खराब है, बच्चियों को एहतियात बरतनी चाहिए। मेरे बयान पर राजनीति करने वालों पर लानत है। अगर आपके घर में बच्चियां हैं तो इस तरह के गंभीर मामलों में तर्कसंगत बात करें।’
-एजेंसी