बेतुकी इमिग्रेशन पॉलिसी, अमेरिका से जा रहे हैं बुद्धिमान लोग: ट्रंप

वॉशिंगटन। अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद प्रवासी लोगों को लेकर कड़ी नीतियां बनाने वाले डॉनल्ड ट्रंप अब पीछे हटते दिख रहे हैं। देश के शीर्ष शिक्षण संस्थानों में पढ़ने वाले विदेशी छात्रों के लौटने पर अफसोस जताते हुए उन्होंने कहा है कि ऐसे लोगों को यहीं रहकर कंपनियों के विकास में योगदान देना चाहिए। शुक्रवार को एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा, ‘बेतुकी इमिग्रेशन पॉलिसी के चलते अमेरिका से बुद्धिमान लोग जा रहे हैं।’ बता दें कि ट्रंप की ओर से एच1बी वीजा पॉलिसी को सख्त किए जाने के चलते भारत और चीन के युवाओं के लिए बड़ा संकट खड़ा हो गया था।
उन्होंने इमिग्रेशन पॉलिसी में खामियों को दूर करने की इच्छा दोहराई ताकि योग्यता के आधार पर अधिक लोग देश में आ सकें। ट्रंप ने कहा कि प्रशासन चाहता है कि देश में लोग कानूनी तरीके से योग्यता के आधार पर आएं। ट्रंप ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘हमारे पास तमाम कंपनियां आ रही हैं। हमें अच्छे लोग चाहिए। लेकिन हम चाहते हैं कि वह योग्यता के आधार पर आएं और उन्हें योग्यता के आधार पर ही आना होगा। वे उस तरह नहीं आ सकते जैसे वर्षों से आ रहे हैं।’
उन्होंने कहा, ‘मुझे प्रत्येक बड़ी तकनीक कंपनियों से फोन आते हैं और वे कहते है कि हम देश के सर्वश्रेष्ठ स्कूलों में अपनी कक्षा के सर्वश्रेष्ठ लोगों को यहां रहने की अनुमति नहीं देते हैं, हम उन्हें अपने देश में रहने की अनुमति नहीं देते हैं।’
ट्रंप ने कहा, ‘इसलिए वे चीन, जापान और दुनिया के अन्य देश लौट जाते हैं और हम उन्हें नहीं रखते। वे हमारे सर्वश्रेष्ठ स्कूलों में शिक्षा प्राप्त करते हैं और फिर हम उन्हें विभिन्न परिस्थितियों के कारण रहने की कोई गारंटी नहीं देते इसलिए हम कई बुद्धिमान लोगों को खो देते हैं। हम ऐसा नहीं कर सकते।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »