CDS बनने के बाद बिपिन रावत की तीनों सेना प्रमुखों के साथ दूसरी बार मीटिंग

नई दिल्‍ली। देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ CDS जनरल बिपिन रावत ने गुरुवार को तीनों सेनाओं (सेना, वायुसेना और नौसेना) के प्रमुखों के साथ मीटिंग की।
बिपिन रावत के CDS बनने के बाद यह दूसरी बार है जब उन्‍होंने तीनों सेना प्रमुखों के साथ मीटिंग की है। यह जानकारी रक्षा मंत्रालय ने दी।
बैठक के दौरान CDS जनरल बिपिन रावत ने निर्देश जारी किए हैं कि एयर डिफेंस कमांड बनाने का प्रस्ताव 30 जून, 2020 तक तैयार किया जाए। उन्होंने 30 जून और 31 दिसंबर 2020 तक तालमेल के क्रियान्वयन के लिए प्राथमिकताएं भी तय कीं।
गौरतलब है कि देश के पहले CDS (चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ) के तौर पर जिम्मेदारी संभालने के बाद बिपिन रावत ने कहा कि हमारा फोकस तीनों सेनाओं को मिलाकर तीन नहीं, बल्कि 5 या फिर 7 करने पर होगा।
उन्होंने कहा कि तीनों सेनाएं 1+1+1 मिलकर 3 नहीं बल्कि 5 या 7 होंगी।
पीओके को लेकर सवाल पूछे जाने पर CDS रावत ने कहा कि जो भी प्लान बनाए जाते हैं, वह कभी पब्लिक में साझा नहीं किए जाते।
अपने काम को लेकर उन्होंने कहा कि आर्मी, नेवी और एयरफोर्स के बीच समन्वय स्थापित करना है। ये तीनों ही फोर्स टीम वर्क के तहत काम करेंगी और उस पर नजर रखने का काम CDS करेगा। उन्होंने कहा कि हमें तीनों सेनाओं के जोड़ को तीन नहीं बनाना है बल्कि 5 या 7 करना है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *