बीकानेर जमीन घोटाला: ईडी ने रॉबर्ट वॉड्रा के करीबियों के यहां छापे मारे, हरियाणा कांग्रेस विधायक का भाई भी शामिल

Robert Vadra sell land to the arrest, increased difficulties
बीकानेर जमीन घोटाला: ईडी ने रॉबर्ट वॉड्रा के करीबियों के यहां छापे मारे, हरियाणा कांग्रेस विधायक का भाई भी शामिल

फरीदाबाद। बीकानेर जमीन घोटाला मामले में ईडी ने रॉबर्ट वॉड्रा के करीबियों के यहां छापे मारे हैं,जिनके यहां छापे मारे हैं उनमें हरियाणा कांग्रेस के एक विधायक का भाई भी शामिल है. खबरों के मुताबिक ईडी ने रॉबर्ट वॉड्रा के करीबियों के यहां छापे मारे हैं, इनमें एक हरियाणा के कांग्रेस विधायक का भाई भी है

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही है. खबर है कि बीकानेर जमीन घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने उनके करीबियों के यहां छापेमारी की है.

फाइनेंशियल एक्सप्रेस के मुताबिक, ईडी ने फरीदाबाद में तीन जगहों पर छापेमारी की है. जिन लोगों पर छापेमारी हुई, उनमें वाड्रा के करीबी महेश नागर और अशोक कुमार शामिल हैं. महेश नागर के भाई ललित फरीदाबाद की तिगांव विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक हैं. जबकि अशोक कुमार असल में महेश नागर का ड्राइवर रह चुका है. ईडी की जांच के मुताबिक, वॉड्रा की कंपनी स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी ने राजस्थान सरकार के अधिकारियों की मिलीभगत से महज 79 लाख रुपए में बीकानेर में 270 बीघा जमीन खरीदी.

इसके बाद इस जमीन को खरीदने-बेचने की पावर ऑफ अटॉर्नी महेश नागर के नाम पर कर दी. महेश नागर ने इसका इस्तेमाल कर यह जमीन कथित तौर पर अशोक कुमार को पांच करोड़ रुपए में बेच दी. जबकि यह जमीन वास्तव में फिनलेज नाम की कंपनी ने खरीदी थी, जिसने इस जमीन को खरीदने के लिए अशोक के नाम पर पावर ऑफ अटॉर्नी बनवाई थी. इस तरह कागजों पर जो सौदा पावर ऑफ अटार्नियों के जरिए महेश और अशोक के बीच दिख रहा था, वह वास्तव वॉड्रा की स्काईलाइट और फिनलेज कंपनियों के बीच हुआ था.

ईडी ने इसी फर्जीबाड़े के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत छापेमारी की कार्रवाई की है. इससे पहले ईडी इस धोखाधड़ी में साथ देने वाले सरकारी कर्मचारियों की संपत्ति भी अटैच कर चुका है. हालांकि कांग्रेस अब तक इस बात का पूरी तरह खंडन करती रही है कि बीकानेर जमीन घोटाले से वॉड्रा का किसी तरह का संबंध है. लेकिन ईडी की जांच इस मामले की परतें खोलती जा रही है.
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *