कैलाश सत्यार्थी की भारत यात्रा 16 अक्टूबर को Jaipur में

जयपुर। कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रंस फाउंडेशन बाल यौन शोषण और तस्करी के खिलाफ ग्यारह सितम्बर से कन्याकुमारी से भारत यात्रा शुरु करेगा और 16 अक्टूबर को Jaipur में इसका समापन होगा।

सामाजिक कार्यकर्ता सुरेश मिश्रा ने आज यहां बताया कि यह यात्रा ग्यारह सितम्बर को कन्याकुमारी से शुरु होकर 16 अक्टूबर को नयी दिल्ली में समाप्त होगी।
यात्रा का जयपुर में पड़ाव 16 अक्टूबर को होगा। उन्होंने बताया कि यह यात्रा बाल यौन शोषण के खिलाफ एक अभियान की शुरुआत है तथा इससे समाज में बच्चों के साथ हो रहे दुर्व्यवहार के प्रति जागरुकता बनेगी। बाल यौन शोषण के मामलों में दोषियों को समयबद्व तरीके से सजा दिलाना भी इस अभियान के प्रमुख लक्ष्यों में शामिल है।

गौरतलब है कि बच्चों के अधिकारों के लिए कार्यरत नोबल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने बाल यौन शोषण और बाल तस्करी के विरुद्ध आज बड़े ‘युद्ध’ की घोषणा करते हुए देश के एक करोड़ लोगों को इस अभियान से जोड़ने के लिए 11 सितम्बर से 16 अक्टूबर तक ‘भारत यात्रा ’करने का एलान किया था।

सत्यार्थी ने देश में बच्चों के विरुद्ध बढ़ते अपराधों पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि ‘नया भारत’ तभी बनेगा, जब देश के बच्चे हर तरह के अपराध से सुरक्षित रहेंगे।

उन्होंने कहा कि यह यात्रा ‘सुरक्षित बचपन और सुरक्षित भारत’ के संकल्प के साथ 11 सितम्बर को कन्याकुमारी में विवेकानन्द स्मारक से शुरू होगी और 16 अक्टूबर को नयी दिल्ली में इसका समापन होगा।
सत्यार्थी ने बताया कि यह यात्रा 35 दिन की होगी और 22 राज्यों तथा केन्द्रशासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी और इसमें 1500 किलोमीटर का सफर तय किया जाएगा। छह अन्य जगहों से भी यह यात्रा एक साथ शुरू होगी, जो आगे चलकर भारत यात्रा में मिल जाएगी।

दक्षिण में कन्याकुमारी से शुरू होकर यह पूरे पश्चिम भारत में जाएगी। इसी तरह देश के पूर्वी हिस्से में यात्रा की शुरूआत गुवाहाटी से होगी जबकि उत्तर भारत में श्रीनगर से इसकी शुरूआत होगी, 16 अक्टूबर को Jaipur में इसका समापन होगा। -एजेंसी